कोविड-19 महामारी का टीके की उम्मीद में 47 हजारी हो सकता है सेंसेक्स

Covid-19 pandemic vaccine may result in 47 Sensex expected
Covid-19 pandemic vaccine may result in 47 Sensex expected

मुंबई। कोविड-19 महामारी का टीका देश में आने की उम्मीद बढ़ने के साथ ही घरेलू शेयर बाजार लगातार नये कीर्तिमान बनाता जा रहा है और आने वाले सप्ताह में सेंसेक्स पहली बार 47 हजार अंक के पार बंद हो सकता है।

बीते सप्ताह पहले दिन सोमवार को तीन प्रतिशत की जोरदार गिरावट के बावजूद बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सप्ताहांत पर 12.85 अंक की बढ़त में 46,973.54 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। बीच कारोबार में दो दिन यह 47 हजार अंक के पार पहुँचा, लेकिन वहाँ टिक नहीं सका। कोविड-19 टीके की उम्मीद में आने वाले सप्ताह में इसके 47 हजार अंक से ऊपर बंद होने की पूरी उम्मीद है।

ब्रिटेन में कोविड-19 के एक नये स्ट्रेन का संक्रमण तेजी से फैलने की खबर आने के बाद सोमवार को दुनिया के दूसरे शेयर बाजारों के साथ ही घरेलू स्तर पर भी बिकवाली काफी बढ़ गई। हालाँकि अगले तीन दिन बाजार में तेजी रही। क्रिसमस के अवकाश के कारण शुक्रवार को बाजार बंद रहा।

आने वाले सप्ताह में निवेशकों की नजर वैश्विक कारकों के साथ इस बात पर भी रहेगी कि देश में कोविड-19 के टीकाकरण की दिशा में प्रगति किस रफ्तार से होती है। बुनियादी उद्योगोें के उत्पादन के आँकड़े भी निवेश धारणा को प्रभावित करेंगे।

आलोच्य सप्ताह में निफ्टी 11.30 अंक यानी 0.08 प्रतिशत की गिरावट में 13,749.25 अंक पर बंद हुआ। बड़े सूचकांकों की तरह मझौली और छोटी कंपनियों का सूचकांक वापसी नहीं कर सका। बीएसई का मिडकैप 124.48 अंक यानी 0.70 प्रतिशत लुढ़ककर 17,676.70 अंक पर और स्मॉलकैप 93.57 अंक यानी 0.53 फीसदी टूटकर सप्ताहांत पर 17,675.53 अंक पर रहा।

समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान सेंसेक्स की 30 में से 17 कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही जबकि शेष 13 कंपनियों में बढ़त देखी गई। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की इंफोसिस का शेयर सर्वाधिक 3.92 प्रतिशत की साप्ताहिक बढ़त में रहा। इसी क्षेत्र की अन्य कंपनियों के शेयर भी चढ़ गये। एचसीएल टेक्नोलॉजीज का शेयर 3.22 प्रतिशत, टीसीएस का 1.60 प्रतिशत और टेक महिंद्रा का 1.41 प्रतिशत ऊपर बंद हुआ।

एफएमसीजी कंपनियों में हिंदुस्तान यूनिलिवर में 2.93 प्रतिशत और नेस्ले इंडिया में 1.26 प्रतिशत की तेजी रही जबकि आईटीसी का शेयर 2.75 फीसदी लुढ़क गया।

बैंकिंग एवं वित्तीय कंपनियों में मिश्रित रुख रहा। कोटक महिंद्रा बैंक का शेयर 0.66 फीसदी और एक्सिस बैंक का 0.15 फीसदी चढ़ा। वहीं, इंडसइंड बैंक का शेयर 5.81 प्रतिशत, बजाज फिनसर्व का 2.40 प्रतिशत, भारतीय स्टेट बैंक का 1.71, बजाज फाइनेंस का 1.30, एचडीएफसी बैंक का 1.02, एचडीएफसी का 1.00 और आईसीआईसीआई बैंक का 0.66 प्रतिशत की साप्ताहिक गिरावट में रहा।

वाहन निर्माता कंपनियों में महिंद्रा एंड महिंद्रा का शेयर 2.83 प्रतिशत और मारुति सुजुकी में 1.49 प्रतिशत की गिरावट देखी गई जबकि बजाज ऑटो का शेयर 0.71 प्रतिशत चढ़ गया।

स्वास्थ्य कंपनियों में सनफार्मा में 2.54 प्रतिशत की तेजी और डॉ. रेड्डीज लैब में 0.51 प्रतिशत की गिरावट रही।
अन्य कंपनियों में एशियन पेंट्स 1.84 प्रतिशत, भारती एयरटेल 1.26 प्रतिशत और रिलायंस इंडस्ट्रीज 0.08 प्रतिशत की बढ़त में रहा।

ओएनजीसी ने सेंसेक्स में सर्वाधिक नुकसान उठाया। उसका शेयर सप्ताह के दौरान 5.86 प्रतिशत टूटा। एनटीपीसी में 3.66 फीसदी, अलट्राटेक सीमेंट में 2.15, पावरग्रिड में 2.09, एलएंडटी में 1.66 और टाइटन में 1.60 फीसदी की गिरावट रही।