अजमेर में 10 करोड़ की लागत से बनेगी 1.8 किमी चौपाटी

अजमेर। आनासागर झील को मुम्बई और उदयपुर की तर्ज पर विकसित करने के क्रम में पुष्कर रोड पर 10 करोड़ की लागत से बनने वाली 1.8 किलो मीटर लम्बी नई चौपाटी शहर के पर्यटन के लिए वरदान होगी। यहां से झील में आने वाले प्रवासी पक्षियों का जलकिलोल तो देखा जा सकता है। साथ ही बेटी गौरव उद्यान भी लोगों को लुभाएगा।

शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने शनिवार को महापौर धर्मेन्द्र के साथ पुष्कर रोड विश्राम स्थली पर निर्माणाधीन पाथवे का निरीक्षण किया। उन्होंने अजमेर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अधिशाषी अभियंता अनिल जैन एवं अन्य अधिकारियों को पाथवे निर्माण के काम में तेजी लाने एवं अन्य सुधार के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह चौपाटी रिजनल कॉलेज तिराहे की चौपाटी से जोड़ी जाएगी। शहर के लोगों को एक नया पर्यटन स्थल मिलेगा।

शिक्षा राज्यमंत्री ने यह जानकारी दी कि स्मार्ट सिटी योजना के तहत बनने वाली यह चौपाटी कई मायनों में खास है। राज्य सरकार आनासागर झील में पक्षी पर्यटन के प्रयासों को गति दे रही है। विश्राम स्थली के किनारे बनने वाली यह चौपाटी पक्षी प्रेमियों के लिए सौगात होगी। यहां से झील में आने वाले प्रवासी पक्षियों का जलकिलोल आसानी से देखा जा सकेगा।

उन्होंने कहा कि अजमेर विकास प्राधिकरण द्वारा विश्राम स्थली के स्थान पर बेटी गौरव उद्यान विकसित किया जा रहा है। झील के किनारे यह उद्यान शहर के लोगों एवं बाहर से आने वाले पर्यटकों के लिए विशेष आकर्षण का केन्द्र बनेगा। उद्यान में बच्चों के लिए विशेष सुविधा मुहैया करायी जाएंगी। यहां म्यूजिकल फाउंटेन एवं अन्य सुविधाएं विकसित करने के लिए योजना तैयार की जा रही है।

देवनानी ने कहा कि अजमेर राजस्थान का एक मात्र ऎसा शहर है। जहां केन्द्र सरकार की सभी प्रमुख योजनाएं लागू की गई हैं। करीब 2 हजार करोड़ की लागत से स्मार्ट सिटी योजना के कार्य शुरू हो गए हैं। हैरिटेज एवं प्रसाद योजना के तहत कार्य जारी है।

करीब 13 करोड़ रूपए की लागत से सुभाष उद्यान को नया रूप दिया जा रहा है। आने वाले दिनों में अजमेर एक सुव्यवस्थित और सुन्दर शहर के रूप में नजर आएगा। इस अवसर पर अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।