प्रधानमंत्री मोदी झुंझुनू में 10 कलेक्टरों को भी करेंगे सम्मानित

Prime Minister Modi to visit Jhunjhunu
Prime Minister Modi to visit Jhunjhunu

जयपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगामी आठ मार्च को झुंझुनू में प्रस्तावित दौरे में पहली बार बेटी बचाओं बेटी पढाओं अभियान में श्रेष्ठ कार्य करने वाले दस जिला कलेक्टरों को सम्मानित किया जाएगा।

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सचिव राकेश श्रीवास्वत ने बताया कि पहली बार बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के अच्छा काम करने वाले देश भर के 10 जिलों के कलेक्टरों व वहां के जिला प्रमुखों का सम्मान प्रधानमंत्री के हाथों से होगा। इसके अलावा इन सभी 10 जगहों के पूर्व कलेक्टरों को भी बुलाया गया है।

उन्होंने बताया कि सम्मानित होने वाले अधिकारियों में शम्मी आबिदी रायगढ़ छत्तीसगढ़, नरेश ठकराल सीकर, शिवकुमार केबी बिजापुर कर्नाटक, कर्मा आर. बोनपो नोर्थ सिक्किम, प्रदीप सबरवाल तरण तारण हरियाणा, डॉ. योगिता राणा हैदराबाद, मार्कंड पांडूरांग सोनीपत, अविन्तका सिंह औलाख अहमदाबाद, दिनेश यादव झुंझुनू तथा रविंद्रकुमार उधमपुर जम्मू कश्मीर शामिल है।

उन्होंने बताया कि इस दौरान श्री मोदी अभियान में अच्छा काम करने वाले छह जिलों के जिलाधिकारियों से भी मिलेगें। इनमें राजस्थान के पांच जिलों धौलपुर, सिरोही, बाड़मेर, करौली और जैसलमेर तथा हरियाणा के मेवात जिले के कलेक्टर भी कार्यक्रम में आएंगे।

श्रीवास्तव ने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यक्रम में शामिल होने से पहले उन माताओं से मिलेंगे जिन्होंने बेटियों को जन्म दिया है। इसके लिए जिले की 200 से 250 माताओं को सूचीबद्ध किया गया है। जिन्होंने 22 जनवरी 2015, जब से बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान शुरू हुआ। उसके बाद बेटियों को जन्म दिया है।

भारतीय जनता पार्टी के सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी लक्ष्य दिये गये है। इसके तहत जनप्रतिनिधियों को झुंझुंनू लोकसभा क्षेत्र के सभी आठों विधानसभा क्षेत्रों से दस दस हजार से अधिक कार्यकर्ताओं को लाने का लक्ष्य दिया गया है। इसके साथ ही सही आंकलन के लिये कार्यकर्ताओं के वाहनों को चार जगह जांच की जायेगी ओर सीसीटीवी कैमरों से रिर्काडिंग करायी जायेगी ।

झुंझुंनू के जिलाध्यक्ष मनोज सिंघानिया ने बताया कि इस बार गाडी लाने वाले कार्यकर्ताओं को पहले भुगतान किया जाएगा। वाहनों की सही संख्या जानने के लिए चैक पोस्ट की भी व्यवस्था की गई है।