औरैया में अधेड़ ने किया 11 साल की नाबालिग लडकी से रेप

औरैया। उत्तर प्रदेश में औरैया जिले के अयाना क्षेत्र में नाबालिग लडकी को बहला-फुसलाकर निजी नलकूप पर ले जाकर एक अधेड़ ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

पुलिस सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि थाना क्षेत्र के ग्राम रूपपुरा में रविवार को महिला पानी भरने के लिए गई थी और घर पर उसकी 11 वर्षीय पुत्री अकेली थी। उसी समय गांव का विश्वनाथ (55) किशोरी को बहला-फुसलाकर अपने निजी नलकूप पर ले गया और वहां दुष्कर्म किया।

उन्होने बताया कि परिजन पुत्री को चोट लगने की बात समझ उसे दिखाने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अयाना ले गये लेकिन अत्यधिक रक्तश्राव के चलते चिकित्सक ने दवा देकर उसे वापस घर भेज दिया।

ब्लड़ बंद न होने पर माता-पिता उसे सोमवार को पुनः अयाना अस्पताल ले गए, पर चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जहां पर भर्ती होने के बाद लड़की ने रात्रि में अपने माता-पिता को आप बीती बताई। पुलिस मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश कर रही है।

डम्फर ने किशोरी को कुचला

औरैया जिले के बेला क्षेत्र में बाइक के सड़क के गड्ढे में जाने से छिटककर गिरी किशोरी के तेज रफ्तार डम्फर की चपेट में आने से मौके पर मौत हो गई।

पुलिस सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि कस्बा दिबियापुर निवासी संतोष राजपूत की 15 वर्षीय पुत्री मुस्कान आज सुबह कन्नौज जिला के हंशापुर गांव स्थित मौसी के घर से अपने मौसेरे भाई रितिक के साथ मोटरसाइकिल से वापस अपने घर दिबियापुर जा रही थी।

वह कन्नौज-औरैया मार्ग पर ग्राम नौसारा समीप पहुंचे ही थे कि तभी बाइक का पहिया एक गड्ढे में गया जिससे पीछे बैठी मुस्कान छिटककर सड़क पर गिर गयी और उसी समय सामने से आ रहे एक अज्ञात डम्फर की चपेट में आ गयी, जो उसे कुचलता हुआ निकल गया, जिससे मुस्कान की मौके पर मौत हो गई। मौसेरे भाई रितिक ने बताया कि पिछले वर्ष ही मुस्कान के पिता संतोष की मार्ग दुर्घटना में ही मृत्यु हुई थी।

अपहृत बालिका मुक्त, अपहरणकर्ता अरेस्ट

औरैया जिले के बिधूना क्षेत्र से नौ दिनों पूर्व अपहृत की गई शिक्षक दंपती की नाबालिग पुत्री को पुलिस ने ढूढ़ निकाला है और अपहर्ता को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि कस्बा के किशोरगंज निवासी शिक्षक दंपती की 13 वर्षीय पुत्री का सात सितम्बर को अपहरण हो गया था। मंगलवार को कुदरकोट के पास अपहृत नाबालिग किशोरी को बरामद कर लिया गया है, साथ ही अपहर्ता को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कोतवाली निरीक्षक विनोद कुमार शुक्ल ने बताया कि किशोरी का मेडिकल परीक्षण कराए जाने के साथ प्रकरण की निष्पक्ष जांच कर दोषी लोगों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि सात सितम्बर की रात्रि नाबालिग का उसके घर से एक फार्मासिस्ट जितेन्द्र त्रिपाठी के पुत्र आकृति त्रिपाठी ने अपहरण कर लिया गया था। शिक्षक दंपती ने फार्मासिस्ट के पुत्र सहित कस्बे के तीन अन्य युवकों के विरुद्ध कोतवाली में पुत्री को अपहरण का मामला दर्ज कराया था।