मूक बधिर बच्चे को वापस पाकिस्तान भेजा

12 year old mute deaf pakistani boy to go home after seven month

चंडीगढ़। पाकिस्तान के एक मूक बधिर बारह साल के बच्चे को सोमवार को पाकिस्तानी अधिकारियों को सौंप दिया गया। यह बच्चा बीते साल मई में भटक कर भारतीय क्षेत्र में आ गया था।

फरीदकोट के उपायुक्त राजीव पराशर ने बताया कि विदेश मंत्रालय ने सोमवार सुबह हसनैन को वापस स्वदेश भेजने की अनुमति दे दी। इसके बाद उसे अटारी सीमा पर पाकिस्तानी अधिकारियों को सौंप दिया गया।

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने बच्चे को पंजाब के फिरोजपुर सेक्टर में एक मई 2017 को पकड़ा था। यह अनजाने में सीमा पार कर भारतीय क्षेत्र में आ गया था।

पराशर ने बताया कि बच्चे को बीते साल मई से निरीक्षण गृह में रखा गया था। उसकी जेब से मिले बीस रुपए के पाकिस्तानी नोट से उसकी पहचान हुई थी।

नई दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग ने इस बात की पुष्टि की थी कि बच्चे के पिता जावेद इकबाल लाहौर के निवासी हैं।

बच्चे की दर्दभरी यह कहानी उस वक्त सामने आई जब दो दिसम्बर को पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार ने एक ट्वीट के जरिए उसे उजागर किया।