कालीकट एयरपोर्ट पर विमान हादसा : 14 की मौत, 123 घायल

मल्लपुरम। केरल के करीपुर में कालीकट अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर शुक्रवार रात एयर इंडिया एक्सप्रेस के विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के कारण कम से कम 14 यात्रियों की मौत हो गई तथा 123 अन्य लोग घायल हो गए।

नागर विमानन महानिदेशालय बताया कि दुबई से 191 यात्रियों लेकर कालीकट आया एयर इंडिया एक्सप्रेस एएक्सबी 1344, बी 737 हवाई पट्टी 10 पर लैंडिंग के समय दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान रनवे से फिसलकर घाटी में गिर गया तथा दो भागों में बंट गया।

इस विमान में 174 यात्री, 10 बच्चे, दो पायलट तथा पांच केबिन क्रू सवार थे। सूत्रों ने बताया कि घायलों को उपचार के लिए कोंडोट्टी, मल्लपुरम और कोझिकोड के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

विजयन ने दी मोदी को हादसे की जानकारी

केरल के मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन ने शुक्रवार की रात कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन पर मुझसे बात की और करीपुर में कोझिकोट अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हुए विमान हादसे की जानकारी ली।

विजयन ने इस दुर्घटना पर शोक व्यक्त करते हुए बताया कि उन्होंने मोदी को बताया कि कोझिकोड तथा मल्लपुरम के जिला कलेक्टरों सहित अधिकारियों की एक टीम राहत एवं बचाव के लिए घटना स्थल पर पहुंच गयी है। उन्होंने बताया कि सरकारी एजेंसियों को सभी सुविधाओं को उपयोग करते हुए राहत एवं बचाव कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं।

मुख्यमंंत्री विजयन ने बताया कि स्थानीय निकाय मंत्री एसी मोइदीन को राहत एवं बचाव कार्यों का समन्वय करने की जिम्मेदारी दी गई है। मोइदीन थ्रिसूर से करीपुर के लिए रवाना हो गए हैं।

उन्होंने बताया कि पुलिस महानिरीक्ष को राहत एवं बचाव कार्यों की निगरानी के लिए तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि दोनों जिलों की दमकल और राहत एवं बचाव टीमें घायलों को अस्पताल पहुंचाने के काम में जुटी हुई हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों को पीड़ितों के जीवन को बचाने के लिए हर संभव चिकित्सा सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए गए हैं।

एएआईबी करेगा विमान हादसे की जांच : पुरी

केरल के कोझिकोड में आज रात हुए विमान हादसे की जांच वायुयान दुर्घटना अन्वेषण ब्यूरो (एएआईबी) को सौंपी जाएगी। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इस दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि इस दुर्घटना की औपचारिक जांच एएआईबी करेगा। उन्होंने बताया कि एयर इंडिया और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण की टीमें मुंबई और दिल्ली से कोझिकोड पहुंच रही हैं।