बिहार में सड़क दुर्घटना में 15 लोगों की मौत, दस घायल

पटना। बिहार में कटिहार, बेगूसराय, सीवान, समस्तीपुर और सारण जिले में मंगलवार को अलग-अलग सड़क दुर्घटना में चार छात्रा समेत 15 लोगों की मौत हो गई तथा दस अन्य घायल हो गए।

कटिहार से प्राप्त समाचार के अनुसार जिले के कुर्सेला थाना क्षेत्र में राष्ट्रीय राजममार्ग संख्या 31 पर कोसी पुल के समीप ट्रक और स्कॉर्पियो के बीच टक्कर में स्कार्पियो पर सवार छह लोगों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य घायल हो गए।

मृतकों की पहचान शिवजी महतो (45), नंद लाल महतो (25), राजकुमार (30), अजय महतो (45), रामस्वरूप साह (45) और संतोष कुमार (42) के रूप में की गई है। घायलों को कटिहार मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रेफर कर दिया गया है।

बेगूसराय से मिली जानकारी के अनुसार जिले के खोदावंदपुर थाना क्षेत्र जीरोमाइल के समीप राजकीय राजमार्ग संख्या- 28 पर बस ने बोलेरो में टक्कर मार दी। इस दुर्घटना में बोलेरो पर सवार चार छात्राओं की मौत हो गई जबकि छह अन्य घायल हो गईं। मृतकों की पहचान नहीं की जा सकी है। दुर्घटना के बाद बस चालक वाहन छोड़ कर फरार हो गया। घटना से आक्रोशित लोगों ने बस में आग लगा दी। घायलों को रोसड़ा अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सीवान से प्राप्त सूचना के अनुसार जिले के सराय पुलिस आउट पोस्ट क्षेत्र में बाईपास रोड स्थित चमड़ा मंडी में बाइक और ट्रक के बीच हुई टक्कर में बाइक चालक समेत तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई वहीं एक महिला गंभीर रूप से घायल हो गई।

मृतकों की पहचान सारण जिले के मशरख थाना क्षेत्र चांद कुंदरिया गांव निवासी नौशाद आलम के पुत्र फैयाज (06) तथा मुस्कान (10) और फैयाज के मामा रेहान (20) के रूप में की गई है। दुर्घटना में घायल नौशाद की पत्नी सबाना को सीवान सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

समस्तीपुर से मिली सूचना के अनुसार जिले के सरायरंजन थाना क्षेत्र में सरायरंजन मुहल्ला निवासी 25 वर्षीय इंदु देवी अपने दरवाजे पर बर्तन धो रही थी। इसी बीच तेज रफ्तार कार की चपेट में आकर उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

छपरा से प्राप्त समाचार के अनुसार सारण जिले के मशरक थाना क्षेत्र में मशरक-मलमलिया शीतलपुर राजकीय राजमार्ग 73 पर बनसोही ग्रामीण बैंक के समीप ट्रक की चपेट में आने से मोटरसाइकिल सवार एक युवक की मौत हो गई। मृतक की पहचान सीवान जिले के बसंतपुर थाना क्षेत्र के खेरवां गांव निवासी कृष्णा पर्वत का 30 वर्षीय पुत्र धर्मेंद्र पर्वत के रूप में की गई है।