बागेश्वर धाम की कथा में प्रसाद स्वरूप नारियल लेने के प्रयास में 17 घायल

सागर। मध्यप्रदेश के सागर जिले के बीना में बागेश्वर धाम सरकार की कथा के दौरान आज प्रसाद स्वरूप नारियल लेने के प्रयास में 17 श्रद्धालु घायल हो गए।

घायलों को स्थानीय अस्पताल में उपचार किया गया, जिसमें से 3 को भर्ती किया गया तथा शेष को प्राथमिक उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। घायलों में 3 को फ्रेक्चर हुआ है।

कलेक्टर दीपक आर्य ने घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय अधिकारियों को घायलों के बेहतर उपचार आदि के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कथा के दौरान पंडाल और उसके बाहर सुरक्षा सहित सभी आवश्यक इंतजाम रखने को कहा है।

बीना के एसडीएम शैलेंद्र सिंह के अनुसार खिमलासा मार्ग पर चल रही बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की रामकथा के दौरान दोपहर अचानक श्रद्धालुओं की भीड़ द्वारा नारियल लेने का प्रयास किया गया, जिसमें 17 श्रद्धालु घायल हो गए।

खिमलासा रोड पर पिछले एक सप्ताह से धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री बागेश्वर धाम वालों की श्रीराम कथा का आयोजन किया जा रहा है, जिसका 16 मई को अंतिम दिन है। प्रतिदिन 25 से 30 हजार श्रद्धालु कथा सुनने पहुँच रहे हैं।

कथा के चलते जैसे ही नारियल वितरण कार्यक्रम शुरू हुआ, उसी दौरान श्रद्धालुओं में नारियल लेने की होड़ लग गई और पंडाल में लगी रैलिंग कई श्रद्धालुओं पर गिरी, तो कुछ गिरने के कारण लोगों के पैरों के नीचे आ गए। घायलों को एंबुलेंस व अन्य निजी वाहनों की मदद से सिविल अस्पताल और बीना रिफायनरी के अस्पताल ले जाया गया।

सिविल अस्पताल के डॉ. वीरेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि अस्पताल में शाम 4 बजे तक करीब 17 घायल आ चुके थे, जिनमें से 3 के पैर में फ्रेक्चर होना पाया गया, बाकी घायलों को देर शाम तक प्राथमिक उपचार कर घर भेज दिया गया है।