पिस्तौल की नोक पर अगवा कर विवाहिता से पंचायत घर में रेप

श्रीगंगानगर। राजस्थान में श्रीगंगानगर जिले के घमूडवाली थाना क्षेत्र में एक युवती को पिस्तौल की नोक पर अगवा करके रात भर बंधक बनाए रखकर दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है।

पुलिस सूत्रों ने आज बताया कि पीड़िता ने प्राथमिकी दर्ज करवाते हुए बताया कि सुरेंद्र कलवानिया 12 नवंबर की रात 8:30 बजे शराब के नशे में धुत होकर उसके घर आया और पिस्तौल से धमका कर अपने घर ले गया। उसके पिता विकलांग है। वह उसे जबरदस्ती गांव के पंचायत घर में ले गया जहां उससे दुष्कर्म किया।

पीड़िता ने बताया कि तड़के करीब तीन बजे सुरेंद्र उसे घर के पास छोड़ कर चला गया। पुलिस के अनुसार 19 वर्षीय विवाहित पीड़िता ने बताया कि सुरेंद्र उसकी सहेली का भाई है। वह सहेली से मिलने उसके घर आया जाया करती थी। इसी दौरान सुरेंद्र से जान पहचान और कुछ मित्रता हो गई।

पीड़िता ने आरोप लगाया है कि 12 नवंबर की रात को उसका अपहरण करने घर में बंधक बनाने और फिर दुष्कर्म करने की घटना में सुरेंद्र का कथित रूप से उसके पिता, भाई और बहन ने भी सहयोग किया। थाना प्रभारी करतारसिंह ने बताया कि मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। पीड़िता की चिकित्सकीय जांच करवाई जा रही है।