बदरीनाथ मार्ग पर कार दुर्घटना में एक ही परिवार के 5 की मौत

टिहरी/देहरादून। उत्तराखंड के टिहरी जिला के ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर रविवार सुबह तड़के एक वाहन गहरी खाई में गिरने से एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई। सभी उत्तर प्रदेश के मेरठ से शादी की खरीददारी कर, घर वापस जा रहे थे।

एसडीआरएफ प्रवक्ता ललिता दास नेगी ने आज अपराह्न बताया कि सुबह 6:48 बजे थाना देवप्रयाग द्वारा कौड़ियाला से तीन किमी आगे तोताघाटी के करीब एक वाहन गहरी खाई में दुर्घटनाग्रस्त होने की सूचना पर पोस्ट ब्यासी से रेस्क्यू टीम घटना स्थल भेजी गई थी। उप निरीक्षक नीरज चौहान के नेतृत्व में अथक प्रयासों से टीम ने लगभग 300 मीटर से अधिक गहरी खाई से सभी पांचों शवों को बरामद कर लिया।

नेगी ने बताया कि उक्त वाहन इग्निस कार संख्या यूपी-15डीएल-1061 में सवार यह 05 लोग ऋषिकेश की ओर से चमोली जा रहे थे। वाहन अनियंत्रित होने से दुर्घटनाग्रस्त हुआ जिसमें सवार सभी पांच लोगों की मौके पर ही मृत्यु हो गई थी। उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान पिंकी (25), पुत्री त्रिलोक सिंह, प्रताप सिंह (40) पुत्र देव सिंह, भगीरथी देवी (36) पत्नी प्रताप सिंह, विजय पुत्र प्रताप सिंह (15) और मंजू (12) पुत्री प्रताप सिंह, सभी निवासी ग्राम बाक, तहसील थराली, जनपद चमोली हैं।

बताया जाता है कि मृतका पिंकी कार चला रहे प्रताप सिंह की बहन की बेटी है जिसकी 12 मई को शादी होना थी। इसलिये वह अपने मामा और उसके परिवार के साथ मेरठ से शादी की खरीददारी करने गई थी। यहां से वापस आते समय यह हादसा हो गया। शुरुआत में इन सभी के बद्रीनाथ दर्शन को जा रहे श्रद्धालु होने की आशंका थी, जो बचाव कार्य पूरा होने के बाद निर्मूल साबित हुई।

केदारनाथ के दर्शन कर वापस आते खाई में गिरने से एक की मौत

उत्तराखण्ड में बाबा केदारनाथ के दर्शन कर वापस आते समय एक श्रद्धालु की गहरी खाई में गिरने से मौत हो गई। मृतक हरियाणा का निवासी है। मध्य रात्रि साढ़े बारह बजे थाना सोनप्रयाग से एसडीआरएफ टीम को सूचना मिली कि गौरीकुंड से एक किलोमीटर पहले एक व्यक्ति खाई में गिरा है। सर्चिंग हेतु मौके पर उप निरीक्षक कर्ण सिंह के नेतृत्व में रेस्क्यू उपकरणों के साथ गई टीम ने विषम परिस्थितियों में 150 मीटर गहरी खाई में उतरकर शव बरामद किया।

उन्होंने बताया कि उक्त व्यक्ति श्री केदारनाथ की यात्रा करके गौरीकुंड की ओर आ रहा था। गौरीकुंड से एक किलोमीटर पहले पैर फिसल जाने के कारण वह लगभग 150 मीटर गहरी खाई में गिर गया।

मृतक की पहचान प्रवीण सैनी पुत्र रमेश सैनी, उम्र लगभग 47 वर्ष, निवासी गुड़गांव (हरियाणा) के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि शव को बरामद कर स्ट्रेचर की सहायता से मुख्य मार्ग तक पहुंचाकर बॉडी बैग के माध्यम से जिला पुलिस के सुपर्द किया गया है।