5पैसाडॉटकॉम ने वित्तीय साक्षरता के लिए निशुल्क ऑनलाईन स्कूल लॉन्च किया

5Paisa.com launches free online school for financial literacy
5Paisa.com launches free online school for financial literacy

मुंबई । युवा भारतीयों को संपत्ति निर्माण में सहयोग करने के प्रयास में वित्तीय उत्पाद स्पेस में भारत की एकमात्र ई-कॉमर्स कंपनी, 5पैसाडॉटकॉम ने निवेश पर देश का सबसे बड़ा निशुल्क ऑनलाईन स्कूल लॉन्च किया है, जो लॉन्च के साथ 1 मिलियन से अधिक ग्राहकों तक पहुंचेगा। यह नया अभियान – 5पी स्कूल – वेबसाईट 5पैसाडॉटकॉम एवं 5पैसा मोबाईल ऐप पर उपलब्ध है।

भारत दुनिया का सबसे युवा देश है, जहाँ 60 प्रतिशत कार्यबल 20-40 वर्ष के आयु समूह में है। हर माह 1 मिलियन से अधिक लोग कार्यबल में शामिल हो जाते हैं। जब उनकी कमाई एवं बचत प्रारंभ हो जाती है, तो एक बड़ा प्रश्न यह होता है कि अपना धन ऐसी किस जगह निवेश किया जाए, ताकि वह बढ़ती महंगाई से सुरक्षित रखते हुए बुरे दिनों के लिए बचाया जा सके। फिक्स्ड एवं टर्म डिपॉज़िट सुरक्षित विकल्प माने जाते हैं, लेकिन ये विकल्प बचत को महंगाई के प्रभाव से बचाने के लिए प्रभावशाली नहीं और बीतते सालों के साथ नकारात्मक रिटर्न भी दे सकते हैं।

1000 से अधिक शहरों में युवा भारतीयों की निवेश की रुचि पर 5पैसाडॉटकॉम द्वारा किए गए शोध के अनुसार नए मिलेनियल्स अपने पैसे को कम रिटर्न देने वाले फिक्स्ड डिपॉज़िट, रियल इस्टेट या गोल्ड में रखने के इच्छुक नहीं। वो ऐसे तरीके तलाश रहे हैं, जिनसे उनकी बचत न केवल महंगाई के प्रभाव से बची रहे, बल्कि उन्हें रिटायरमेंट, बुरे दिनों, जैसे बीमारी या फिर शादी के खर्च आदि वहन करने के लिए पर्याप्त धनराशि दे।

हर व्यक्ति जानता है कि स्टॉक बाजार लंबे समय में बहुत अच्छे रिटर्न दे सकता है। आप म्यूचल फंड के माध्यम से भी स्टॉक बाजार में निवेश कर सकते हैं। यद्यपि सबसे महत्वपूर्ण प्रश्न यह है कि किस स्टॉक या म्यूचल फंड में निवेश किया जाए? ऐसे कई उदाहरण हैं जिनमें लोगों ने गलत स्टॉक चुन लिए या फिर वित्तीय ठगों के झांसे में आ गए।

लोगों ने जालसाजों या फिर रातोंरात भगोड़े ऑपरेटर्स के माध्यम से पैसा लगाकर नुकसान उठाया। ऐसे कई निवेशक हैं, जिन्होंने फ्यूचर एवं ऑप्शंस में निवेश करना केवल इसलिए शुरु कर दिया क्योंकि उनके ब्रोकर ने उन्हें ऐसा करने का सुझाव दिया। ब्रोकर्स को फ्यूचर एवं ऑप्शंस में ज्यादा ब्रोकरेज़ मिलती है। भोलेभाले ग्राहक यह नहीं जानते कि इस तरह के निवेश में उनकी पूंजी पूरी तरह नष्ट हो सकती है।

5पैसाडॉटकॉम के सीईओ, प्रकर्ष गगदानी ने कहा, ‘‘इसी कारण हमने 5पी स्कूल का निर्माण किया। हमारा उद्देश्य युवा भारतीयों को निवेश के प्रमुख सिद्धांतों पर शिक्षित करना और उन्हें बाजार में उपलब्ध उत्पादों की जानकारी देना है, ताकि वो तीव्रता से अपनी संपत्ति का निर्माण कर सकें।’’

शोध के परिणामों को ध्यान में रखते हुए 5पैसाडॉटकॉम ने निवेशकों को तथा गैर-वित्त की पृष्ठभूमि वाले लोगों को भी कई मॉड्यूल्स प्रदान किए। इस कोर्सों में कई स्तर – बिगनर्स से लेकर एडवांस्ड तक हैं। ये सभी उद्योग के विशेषज्ञों द्वारा लिखे व विकसित किए गए हैं। इन कोर्सों में बहुत मनोरंजक एवं समझने में आसान वीडियो हैं। ये वीडियो दो-दो मिनट के कैप्सूल फॉर्मेट में हैं।

कोर्स में निवेश के कॉन्सेप्ट जैसे स्टॉक्स, म्यूचल फंड, व्यवस्थित निवेश की योजनाएं, डेरिवेटिव, तकनीकी विश्लेषण एवं सैद्धांतिक शोध आदि हैं। इसमें निवेश की कला पर सहज लेख हैं।

5पैसाडॉटकॉम का मानना है कि यद्यपि शिक्षा प्रशिक्षण पर निवेश करते ही तत्काल बिज़नेस या नए ग्राहक निर्मित नहीं होंगे, लेकिन इस अभियान से ब्रांड के निर्माण और निवेश समुदाय का विस्तार करने में मदद मिलेगी। भारत में ईक्विटी, म्यूचल फंड में निवेश करने वाले निवेशकों की प्रतिशत मात्रा अन्य विकासशील देशों के मुकाबले सबसे कम है।

यह भी एक कारण है, जिसकी वजह से भारतीय बड़े संस्थागत निवेशकों, बड़े म्यूचल फंड्स या उच्च नेटवर्थ वाले लोगों के बराबर रिटर्न पाने और संपत्ति का निर्माण करने में समर्थ नहीं हो पाते। यह अभियान निवेशकों को न केवल वित्तीय साक्षरता एवं निवेश को समझने में मदद करेगा, बल्कि उन्हें अपने भविष्य की योजना बनाने और निवेश का सर्वाधिक फायदा लेने में भी समर्थ बनाएगा।