गुजरात में संक्रमितों के कुल मामले 13273, मौतों का आंकड़ा 800 के पार

802 deaths and 13273 infected with corona in gujarat
802 deaths and 13273 infected with corona in gujarat

गांधीनगर। गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोरोना विषाणु यानी कोविड-19 संक्रमण से 29 और लोगों की मृत्यु हो गयी जिससे अब तक की कुल मौतों का आंकड़ा 802 हो गया है तथा इसके 363 नये मामले सामने आने से अब तक के मामलों की कुल संख्या भी 13 हजार के पार पहुंच गयी है।

पिछले दस दिनों में क्रमश: 24, 30, 25, 35, 34, 19, 20, 20, 29, 24 मौतें हुई थी और नये मामलों की संख्या क्रमश: 363, 398, 395, 366, 391, 348, 340, 324, 364, 362 रही थी।

आज 26 मौतें अहमदाबाद में, दो गांधीनगर और एक खेड़ा जिले में हुई है।

स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार अब तक हुई कुल मौतों की संख्या अब बढ़ कर 802 हो गयी है जबकि कुल संक्रमण का आंकडा 13273 पर पहुंच गया है।

पिछले 24 घंटे में 392 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी गयी है जिनमें से 328 अहमदाबाद, पांच वडोदरा और 27 सूरत के हैं। इसके साथ ही अब तक स्वस्थ्य हुए संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ कर 5880 हो गयी है। इस तरह अब केवल 6591 लोग ही बीमार हैं जिनमें से 63 जीवनरक्षक प्रणाली यानी वेंटिलेटर पर हैं। 11 दिनों से केंद्र सरकार के नये नियमों के अनुरूप भी लोगों को अस्पताल से छुट्टी देकर होम क्वारंटीन मे भेजा जा रहा है। इसमें बिना लक्षण वाले ऐसे संक्रमित हैं जिन्हें लगातार तीन दिन तक बुखार नहीं आया हो। फिलहाल कुल 431143 लोग क्वारंटीन में हैं। अब तक कुल 172562 जांच की गयी है।

29 मृतकों में से 18 को को-मॉरबिडीटी यानी अन्य गंभीर बीमारियां भी थीं।

नये मामलों में सर्वाधिक प्रभावित अहमदाबाद के 275 ( पिछले नौ दिनों में क्रमश: 233, 271, 262, 263, 276, 264, 261, 265, 292 थे), वडोदरा के 21 ( पिछले पांच दिनों में 24,26, 18,22 तथा 21), सूरत के 29 ( पिछले पांच दिनों में 34, 37, 29, 33 और 45) हैं। साबरकांठा जिले में भी आज 11 मामले सामने आये हैं। राज्य के सभी 33 जिले कोरोना प्रभावित हैं।

सर्वाधिक 9724 मामले और 645 मौतें अहमदाबाद में दर्ज की गयी हैं जहां 3658 लोगों को अस्पताल से छुट्टी भी मिली है। सूरत में 1256 मामले, 57 मौतें तथा 850 स्वस्थ हुए हैं। वडोदरा में 771 मामले, 35 मौतें और 475 स्वस्थ हुए हैं। ज्ञातव्य है कि राज्य में पहले दो मामले 19 मार्च को राजकोट और सूरत में मिले थे। पहली मौत सूरत में 22 मार्च को दर्ज हुई थी।

अन्य स्थानों में गांधीनगर में 10, आणंद में 9, भावगनर में आठ, पंचमहाल में छह, बनासकांठा में पांच, महेसाणा, पाटन में चार-चार, अरावल्ली, भरूच और साबरकांठा, खेड़ा में तीन-तीन जामनगर, राजकोट में दो-दो तथा महीसागर, बोटाद, कच्छ, वलसाड में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।