महाधिवेशन से तय होगी कांग्रेस की पांच साल की दिशा

Congress subjects committee meets
Congress subjects committee meets

नई दिल्ली। कांग्रेस महाधिवेशन के पहले दिन शुक्रवार को विशेष समिति की बैठक हुई जिसमें अगले दो दिनों में पारित किए जाने वाले प्रस्तावों पर विस्तार से चर्चा हुई बैठक में सामने आए सुझावों को प्रस्तावों में शामिल किया जाएगा जो अगले पांच साल तक पार्टी की दिशा और दशा तय करेगा।

महा अधिवेशन के लिए गठित विशेष समिति की बैठक के बाद संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की अध्यक्षता में हुई समिति की बैठक में तय किया गया कि महा अधिवेशन के दौरान राजनीतिक स्थिति, आर्थिक स्थिति, विदेश नीति तथा खेतीबाड़ी पर प्रस्ताव पारित किए जाएंगे। इन प्रस्तावों पर बैठक में चर्चा के दौरान 70 वक्ताओं ने अपने सुझाव दिए और राहुल गांधी ने इन सुझावों को प्रस्तावों में शामिल करने का निर्देश दिया।

राजनीतिक स्थिति पर प्रस्ताव और खेतीबाड़ी से संंबंधित प्रस्ताव कल पारित किए जाएंगे। राजनीतिक प्रस्ताव लोकसभा में पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे पेश करेंगे जबकि खेतीबाड़ी संबंधी प्रस्ताव पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह प्रस्तुत करेंगे। विदेश नीति और अर्थव्यवस्था से संबंधित प्रस्ताव महा अधिवेशन के आखिरी दिन पेश किए जाएंगे।

प्रवक्ता ने महा अधिवेशन को ऐतिहासिक करार दिया और कहा कि इसमें पारित प्रस्ताव अगले पांच साल के लिए पार्टी की राजनीतिक दिशा तय करेंगे। इस अवधि के लिए ये एक तरह से पार्टी का दृष्टि पत्र होंगे। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था डावांडोल हो चुकी है और इसमे रचनात्मक सुधार लाने की पहल आर्थिक प्रस्ताव के जरिए की जाएगी।