आप के अजमेर में बढते प्रभाव से भयभीत हो रही है कांग्रेस : कीर्ति पाठक

अजमेर। राजस्थान के अजमेर में आम आदमी पार्टी की संभाग प्रभारी कीर्ति पाठक ने अजमेर में आम आदमी पार्टी जिस तरह तीसरी शक्ति के रूप में उभर रही है उससे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को खतरा लगने लगा है।

पाठक ने आज यहां दस कार्यकर्ता पर पुलिस द्वारा आपदा प्रबंधन एवं धारा 144 उल्लंघन के मामले में दर्ज मुकदमे पर पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस सरकार को घेरते हुए कहा कि यही कारण है कि पेट्रोल डीजल मामले में आप पार्टी की ओर से 19वें दिन केंद्र एवं राज्य सरकार के स्थानीय प्रशासन ने पुतले नहीं जलाने दिए।

उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं ने नियमों की पालना के तहत पुलिस प्रशासन की बात मानी और पुतले नहीं जलाए। बावजूद इसके अगले दिन जिला अध्यक्ष सहित दस कार्यकर्ताओं के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में नियमों के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कर लिया गया जो कि निंदनीय है।

उन्होंने सवाल किया कि हमारे आंदोलन से एक दिन पहले राज्य के खान मंत्री प्रमोद जैन भाया अजमेर आए और जिलाधीशालय से जागरूकता रथ को रवाना किया गया। उस दिन एकत्रित भीड़ जिसमें आला अफसर भी मौजूद रहे क्या उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज किए गए।

क्या उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां नहीं उड़ाई। क्या उन्होंने 144 धारा का उल्लंघन नहीं किया। इसी तरह कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महावीर सर्किल पर पुतला जलाया क्या उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ।

लॉकडाउन-1 के दौरान महापौर धर्मेंद्र गहलोत के साथ पार्षदों को पुलिस की गाड़ी में ले जाकर केवल मुकदमे की धमकी देकर इतिश्री कर ली गई। उन्होंने कहा कि आप पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा जनता की भावनाओं को लेकर किए जा रहे आंदोलन को राज्य सरकार के इशारे पर स्थानीय प्रशासन ने कुचलने और दबाने का काम किया है जो कि अशोभनीय एवं निंदनीय है।