आप नेता शहनाज हिन्दुस्तानी ने की अजमेर दरगाह जियारत

अजमेर। आम आदमी पार्टी के स्टार प्रचारक एवं कवि शहनाज हिन्दुस्तानी ने दिल्ली से आए साथी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं के साथ सोमवार को अजमेर शरीफ़ ख्वाजा साहब की दरगाह की ज़ियारत की।

सभी ने चादर पेश की तथा अक़ीदत के फूल चढ़ाए। अजमेर पहुंचने पर पुष्कर विधानसभा से पूर्व आप प्रत्याशी रियाज़ मंसूरी ने बडी संख्या में कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली से आए नेताओं का स्वागत किया।

हिन्दुस्तानी ने अरविन्द केजरीवाल को कामयाब बनाने के लिए शुक्रिया अदा किया तथा देश, समाज के लिए अमन, चैन, खुशहाली और भाई चारा कायम रहने की दुआ की। खादिम सय्यद शाकिर चिस्ती ने उन्हें ज़ियारत कराई।

इस मौके पर रियाज अहमद मंसूरी, राकेश शर्मा, नवरत्न सोनी, अब्दुल फरीद, रफीक मंसूरी, बाबू भाई खानपुर, मनोज कुमार, पंकज जटिया, मुस्तकीम, रमेश चंद, नईम भाई, बाबू घोसी, राजू भाई, नईम कुरेशी, आलम, राजू, जहीर, शौकत समेत बडी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

जियारत के बाद मीडिया से रूबरू होते हुए शहनाज हिन्दुस्तानी ने कहा कि इस बार दिल्ली का चुनाव नफरत और मोहब्बत के बीच लड़ा गया जिसमें नफरत हार गई और मौहब्बत जीत हुई।दिल्ली की जनता ने देश और दुनिया को यह संदेश दिया कि अब जनता काम पर वोट करेगी। नकारात्मक और नफरत की राजनीति पर बिल्कुल वोट नहीं करेगी।

देश की राजनीति की दिशा और दशा तय करने के लिए इस बार दिल्ली का चुनाव और इसके नतीजे बहुत महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। एक सवाल के जवाब में हिंदुस्तानी ने कहा कि जब हम जनता के बीच प्रचार करने के लिए जाते थे तो जनता स्वयं आगे आकर हमें सहयोग करती और कहती कि इस बार हम अरविंद केजरीवाल को ही वोट करेंगे क्योंकि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के हर परिवार का बड़ा बेटा होने का फर्ज निभाया है।

हिन्दुस्तानी ने कहा कि मूलभूत सुविधाओं को लेकर जनता में जोश था एवं सकारात्मक सोच थी उनमें से फ्री बिजली, फ्री पानी, उच्च शिक्षा, फ्री इलाज, फ्री वाईफाई, फ्री डीटीसी, मां बहनों की सुरक्षा के लिए CCTV कैमरे तथा बसों में मार्शल, किसानों के लिए 70 सालों में किसी सरकार द्वारा पहली बार 20000 प्रति एकड़ एवं 50000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा देना, फरिश्ते योजना तथा बुज़ुर्गों को फ्री तीर्थ यात्रा आदि मुख्य रहे।