जीएसटी और नोटबंदी से लगभग आठ करोड़ लोग बेरोजगार : शरद यादव

जीएसटी और नोटबंदी से लगभग आठ करोड़ लोग बेरोजगार -शरद
जीएसटी और नोटबंदी से लगभग आठ करोड़ लोग बेरोजगार -शरद

पटना। लोकतांत्रिक जनता दल( लोजद) के राष्ट्रीय संरक्षक एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री शरद यादव ने आज कहा कि नोटबंदी और वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) लागू किये जाने के बाद देश में सात से आठ करोड़ लोग बेरोजगार हो गये हैं लेकिन आश्चर्य की बात है कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार जीएसटी के लागू होने के एक वर्ष पूरा होने पर जश्न मना रही है।

यादव ने यहां संवाददता सम्मेलन में कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के लागू होने से आम लोगों के साथ-साथ किसान भी परेशान हैं। बैंकों की हालत भी खराब है । उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के कारण लगभग सात से आठ करोड़ लोग बेरोजगार हो गये हैं।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के समय भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने देश के लोगों से जो वादा किया था उसे पूरा नहीं कर पाये हैं । देशभर में किसान मोदी के किये गये वादे के अनुरूप लागत मूल्य पर 50 प्रतिशत लाभ जोड़कर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) तय करने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं लेकिन इसे अब तक पूरा नहीं किया गया है।