चार हजार की रिश्वत लेते आबूरोड सदर का हेड कॉन्स्टेबल धराये

एसीबी उदयपुर के दल द्वारा रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया आबूरोड सदर थाने के हेड कॉन्स्टेबल मोतीलाल।
एसीबी उदयपुर के दल द्वारा रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया आबूरोड सदर थाने के हेड कॉन्स्टेबल मोतीलाल।

सबगुरु न्यूज-सिरोही। बदनामी सिरोही पुलिस का दामन छोड़ने का नाम नहीं ले रही है। नए पुलिस अधीक्षक ने ढंग से कार्यभार ग्रहण नहीं किया कि उनके मातहत कार्मिकों के रंग ढंग और कार्य प्रणाली उनके सामने उजागर होने लगी। एसीबी उदयपुर की टीम ने आबूरोड सदर थाने के हेड कॉन्स्टेबल मोतीलाल को 4 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

एसीबी उदयपुर के एएसपी उमेश ओझा ने बताया कि आबूरोड की मुदरला के वेलंगरी फली निवासी नैनमल गरासिया के भाई और पिता की चार भैंसे चोरी हो गई थी। नैनमल के भाई दिनेश गरासिया ने इसकी रिपोर्ट आबूरोड सदर थाने में दर्ज करवाई थी।

इसकी जांच हेड कॉन्स्टेबल मोतीलाल को ढ़ी गई थी। भैंस गांव में ही चोरी हुई थी। इस पर मोतीलाल ने इस प्रकरण में समझौता करवा दिया और इसी समझौते के लिए उसने दिनेश से साढ़े आठ हजार रुपये मांगे थे। इसकी शिकायत एसीबी को की गई।
एएसपी ओझा ने बताया।कि बुधवार के शिकायत का सत्यापन करवाते समय मोतीलाल ने साढ़े चार हजार रुपये लिए थे। शेष राशि आज देनी थी। गुरुवार को जब मोतीलाल को चार हजार रुपये दिए तो डीएसपी राजेन्द्र मीणा, हेड कॉन्स्टेबल रमेश चन्द्र व मुनीर मोहम्मद, कॉन्स्टेबल राजेन्द्र और कनिष्ठ सहायक दलपतसिंह और लक्ष्मण सिंह ने करवाई करके उसे रंगे हाथों पकड़ा। उसके पास से 4 हजार रुपये बरामद किए। बुधवार को दिए साढ़े चार हजार रुपये भी बरामद कर लिए।