ACB के हत्थे चढे रेवेन्यू बोर्ड के दो मेंबर्स तथा दलाल एडवोकेट


अजमेर।
राजस्व मंडल राजस्थान के दो सदस्यों आरसी मेहरडा, सुनील शर्मा समेत एक दलाल एडवोकेट शशिकांत जोशी के खिलाफ बडी कार्रवाई करते हुए लाखों रुपए नकद बरामदगी की गई। सुनील शर्मा 1994 बैच के, जबकि मेहरड़ा 1996 बैच के अधिकारी हैं।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अनुसार छापे की यह कार्रवाई जयपुर और अजमेर में अंजाम दी गई। दोनों मेंबर पर फैसले पलटने की एवज में घूस लेने के मामले में निगाह रखी जा रही थी। शनिवार शाम पहले जयपुर और उसके बाद अजमेर में दलाल एडवोकेट के निवास पर कार्रवाई की गई। दोनों अफसरों के  वैशाली नगर जयपुर, बापू नगर जयपुर स्थित आवास पर छापे की कार्रवाई में ACB को 80 लाख रुपए कैश मिला है। अजमेर स्थित रेवेन्यू बोर्ड में अफसरों के ऑफिस भी सील कर दिए।  मामले में कुछ और अधिकारियों के भी शामिल होने की आशंका है।

एसीबी अधीक्षक अजमेर समीर सिंह ने बताया कि संभवत: दोनों मेंबर्स अजमेर स्थित रेवेन्यू बोर्ड में न्यायिक मामलों में फैसले देने या बदलने की एवज में घूस लेते हैं। एसीबी की इंटेलीजेंस विंग को लंबे समय से शिकायत मिल रही थी। इसके बाद से दोनों पर कडी नजर रखी जा रही थी।  दलाल के घर पर भी सर्च अभियान चलाया है। बरामद नकदी को गिना जा रहा है। जो 51 लाख रुपए के करीब अब तक सामने आई है।