आदमपुर उपचुनाव : शांतिपूर्ण रहा मतदान, 76 प्रतिशत वोटिंग

हिसार। हरियाणा में हिसार जिले के आदमपुर उपचुनाव के लिए हुआ मतदान शांतिपूर्ण रहा और लगभग 76 फीसदी मतदाताओं ने मताधिकार का इस्तेमाल किया।

उपचुनाव कुलदीप बिश्नोई के इस्तीफा देने के कारण हुआ जो कुछ महीने पहले ही कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए थे। भाजपा ने उनके पुत्र भव्य को प्रत्याशी बनाया था।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांति पूर्वक रहा। घुड़साल में रोहतक नंबर की संदिग्ध ब्रेजा कार मिली है जिसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया और आदमपुर थाने ले गई है। कार में रोहतक का पूर्व सरपंच और उसका साथी बैठा हुआ था। दोनों सांघी गांव के बताए जा रहे हैं।

पुलिस ने आदमपुर से बाहरी लोगों को कल शाम पांच बजे वापस जाने को कहा था। दोनों से पूछताछ की जा रही है। मतदान के बीच आदमपुर गांव के स्कूल में बने एक मतदान केंद्र के बाहर झड़प हो गई। आरोप है कि एडवोकेट राकेश के साथ पूर्व सरपंच के बेटे संजय दानी और उसके भतीजे ने मारपीट की।

आरोपियों ने उसे जान से मारने की धमकी भी दी। सूचना पर हिसार के एसपी मौके पर पहुंचे। उन्होंने एडवोकेट राकेश को आदमपुर थाना में जाकर शिकायत देने के लिए कहा।

सुंडावास गांव में एक 87 वर्षीय महिला कन्ही मतदान केंद्र पर वोट डालने पहुंची तो उन्हें मृत बताकर वोट डालने से ही रोक दिया गया। मतदान केंद्र पर तैनात कर्मचारियों ने कहा कि इस नाम की महिला की मौत हो चुकी है। महिला ने उनसे कहा कि उसका वोटर लिस्ट में नाम है और उसके घर वोटर रसीद भी आई है। मगर कर्मचारियों ने उसे वोट नहीं डालने दिया। इस पर महिला को मायूस होकर बिना मतदान किए घर लौटना पड़ा।

चौधरीवाली गांव में कांग्रेस और बीजेपी समर्थक भिड़ गए। एक दूसरे पर कुर्सियां तक फेंक दीं। हालात का जायजा लेने के लिए डीएसी अभिमन्यु भी मौके पर पहुंचे।