पाकिस्तान के साथ राजनयिक संबंध खत्म करने के पक्ष में अफगानी नागरिक

काबुल। पाकिस्तान में अफगानिस्तान के राजदूत की पुत्री के अपहरण की घटना के विरोध में काफी संख्या में अफगानी नागरिकों ने पाकिस्तानी दूतावास के सामने धरना दिया और पाकिस्तान के साथ राजनयिक संबंध खत्म किए जाने पर जोर दिया।

मीडिया रिपोर्टोँ के मुताबिक प्रदर्शनकारियों ने अफगानिस्तान में पाकिस्तान के दूतावास को बंद करने और उनके राजदूत को हटाने की मांग की। काबुल में प्राचीन हेरात सामाजिक और सांस्कृतिक परिषद के उप प्रमुख जलमई अफगानियार पोपल ने कहा कि अफगान लोग अफगानिस्तान में एक इजराइली दूतावास स्थापित करने के पक्ष में हैं, लेकिन काबुल में पाकिस्तान के दूतावास को जल्द से जल्द बंद कर देना चाहिए।

धरना प्रदर्शन आहूत करने वाले महमूद मरहून ने कहा कि हम अफगान सुरक्षा बलों से सभी पाकिस्तानी राजनीतिक प्रतिनिधित्वों की गतिविधियों की निगरानी करने का आह्वान करते हैं। पाकिस्तान में अफगान दूतावास सुरक्षित नहीं है। राजदूत के परिवार को पाकिस्तान से बुलाया जाना चाहिए और काबुल में पाकिस्तानी दूतावास को बंद कर दिया जाना चाहिए।

प्रदर्शनकारियों ने क्षेत्रीय देशों, विशेषकर भारत और तुर्की से संकट की इस घड़ी में अफगानिस्तान के साथ खड़े होने और पाकिस्तान के खिलाफ एक संयुक्त मोर्चा बनाने की अपील की। प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान से आने वाले सामानों का बहिष्कार किए जाने पर भी जोर दिया।