काबुल में अमरीकी विमान से गिरकर 19 वर्षीय फुटबालर की मौत

काबुल। अफगानिस्तान के काबुल हवाई अड्डे से अमरीकी वायु सेना के सी-17 विमान के उपर लटककर जो लोग देश से बाहर जाने की कोशिश कर रहे थे उनमें राष्ट्रीय जूनियर फुटबाल टीम का 19 वर्षीय खिलाड़ी जाकी अनवरी भी था, जिसकी अधिक ऊंचाई से गिरने से मौत हो गई थी।

जिस समय काबुल हवाई अड्डे से अमरीकी वायु सेना के विमान ने उड़ान भरी थी तब इस पर अनेक अफगानी नागरिक चढ़ गए थे और कुछ लोग इसके पिछले पहियों और लैंडिंग गियर को पकड़ कर बैठ गए थे लेकिन आकाश में अधिक ऊंचाई पर जाने के बाद जाकी अनवरी की गिरकर मौत हो गई थी।

अफगानी स्पोर्ट्स सोसायटी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि हमें बहुत दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि देश की राष्ट्रीय जूनियर फुटबाल टीम के खिलाड़ियों में से एक जाकी अनवरी की एक दुखद हादसे में मौत हो गई है।

इसमें कहा गया कि दिवंगत अनवरी उन लाखों युवाओं में एक थे जो देश को छोड़कर बाहर जाना चाहते थे लेकिन एक हादसे में अमरीकी सैन्य विमान से गिरकर उनकी मौत हो गई।
इस घटना का जिक्र संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में गुरूवार को अफगान इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रैटिजिक स्टडीज(एआईएसएस) के संस्थापक और महानिदेशक दावोद मोरादियान ने भी किया था।

उन्होंने भारत की अध्यक्षता में अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा को आतंकवादियों गतिविधियों से खतरे विषय पर बोलते हुए कहा था कि वह उस समय काबुल में थे जब अफगानी नागरिक हवाई अड्डे से जा रहे अमरीकी विमान पर चढ़ने की कोशिश कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि यह मानवीय हताशा और डर ही था कि तालिबान के कब्जे के बाद लोग अफगानिस्तान से जाना चाहते हैं और 16 अगस्त को जब वह विमान अधिक ऊंचाई पर पहुंच गया था तो उससे गिरने वाले लोगों में अनवरी भी शामिल थे। वह देश के करोड़ों लोगों की आकांक्षाओं के प्रतीक थे और अफगानिस्तान में जो हालत है उसमें विश्व समुदाय को हस्तक्षेप कर इसे मानवीय संकट घोषित करना चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि सुरक्षा परिषद को अफगानिस्तान की स्थिति पर गंभीर रूप से विचार विमर्श करना चाहिए और वहां अंतरराष्ट्रीय शांति सेना तैनात कर इस संकट को हल करने के लिए इसका एक राजनीतिक समाधान खोजने की दिशा में काम करना चाहिए।

सोशल मीडिया पर इस तरह के अनेक वीडियो हैं जिनमें सी-17 विमान के आसपास सैकड़ों लोग एकत्र हैं और जब विमान धीरे धीरे उड़ान भरता है तो कुछ लोग लैंडिंग गियर के पीछे वाले हिस्से पर चढ़ जाते हैं।

दूसरे वीडियो में दिखाया गया है कि जब विमान अधिक ऊंचाई पर जाता है तो उससे कुछ वस्तुएं गिरती हुई दिखती हैं और बाद में कुछ तस्वीरों में स्थानीय लोग विमान से गिरे तीन लोगों के शव को एकत्र करते दिखाई देते हैं। ये तीनों आदमी काबुल के समीप खैरकाहाना क्षेत्र में विमान से गिरे थे।