अफगानिस्तान का काबुल हवाई अड्डा 48 घंटों तक रहेगा बंद

काबुल। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद इसके प्रतिशोध से बचकर देश से बाहर जाने के इकलौते रास्ते काबुल हवाई अड्डा के अंदर बड़ी संख्या में जमा लोगों को बाहर निकालने के लिए 48 घंटों तक हवाई अड्डे को बंद रखा जाएगा।

देश छोड़ भागने का प्रयास कर रहे अफगानों को तालिबान आतंकवादियों के प्रतिशाेध लेने की आशंका है। ये अफगानी हवाई अड्डे के भीतर और बाहर बड़ी संख्या में जमा हैं। मीडिया रिपोर्टाें के मुताबिक रविवार को हवाई अड्डा के बाहर सात लोगों की मौत हाे गई।

अफगानिस्तान में अमरीकी दूतावास एक परामर्श जारी कर अमरीका के नागरिकों को संभावित सुरक्षा खतरों के कारण काबुल हवाई अड्डे की यात्रा करने से बचने की सलाह दी है।

काबुल हवाई अड्डा के बाहर सात लोगों की मौत

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल स्थित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर देश से बाहर भागने की कोशिश में जुटे सात अफगानी नागरिक रविवार को उत्पन्न अराजक स्थिति और भगदड़ के कारण मारे गए।

ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय के हवाले से स्काई न्यूज ने साेमवार को कि धरातल पर स्थितियां बेहद चुनौतीपूर्ण बनी हुई हैं लेकिन हम स्थिति को यथासंभव संरक्षित और सुरक्षित तरीके से प्रबंधित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं।

गत 15 अगस्त को तालिबान ने काबुल में प्रवेश किया जिससे अमरीका समर्थित नागरिक सरकार को पीछे हटना पड़ा। सत्ता परिवर्तन के परिणामस्वरूप हजारों अफगानी नागरिक ने आतंकवादियों के प्रतिशोध के डर से देश से भागने की कोशिश कर रहे हैं और इसी कारण काबुल हवाई अड्डे के बाहर अराजक स्थिति व्याप्त है।