जोहान्सबर्ग टी-20 : भारत की नजरें अब एक और ऐतिहासिक जीत पर

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream
After historic ODI series win, India eye T20I triumph against South Africa  in Johannesburg
After historic ODI series win, India eye T20I triumph against South Africa in Johannesburg

जोहान्सबर्ग। वनडे सीरीज में इतिहास रचने के बाद बेहतरीन फॉर्म में चल रही भारतीय टीम की नजरें रविवार से शुरू हो रही तीन टी-20 मैचों की सीरीज पर हैं जिसका पहला मैच वांडर्स मैदान पर खेला जाएगा। दोनों टीमों को हालांकि इस सीरीज की तैयारी के लिए सिर्फ एक दिन का समय मिला है क्योंकि वनडे सीरीज का आखिरी मैच शुक्रवार को खत्म हुआ है।

इस सीरीज के दौरान भारत की नजरें 2006 में एक मैच की सीरीज में मिली जीत को दोहराने की होगी। टीम ने वीरेंद्र सहवाग की कप्तानी में छह विकेट से जीत हासिल की थी।

हरफनमौला खेल के दम पर वनडे सीरीज में एकतरफा जीत दर्ज करने वाली कोहली की टीम टी-20 सीरीज में अपने उसी प्रदर्शन को जारी रखना चाहेगी।

कोहली के ऊपर टीम की जिम्मेदारी होगी। वह बल्ले से शानदार फॉर्म में हैं और वनडे सीरीज में उन्हें मैन ऑफ द सीरीज भी चुना गया। उनके अलावा रोहित शर्मा, शिखर धवन, महेंद्र सिंह धौनी, हार्दिक पांड्या खेल के छोटे प्रारुप में टीम को मजबूती देंगे।

सुरेश रैना की टी-20 टीम में वापसी हुई है उनके आने से टीम के मध्यक्रम को बेशक मजबूती मिलेगी। वह टीम के प्रदर्शन में अहम रोल निभा सकते हैं।

गेंदबाजी में युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी टी-20 में भी मेजबान टीम के लिए परेशानी बन सकती है। वनडे सीरीज में इन दोनों गेंदबाजों ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को अपनी फिरकी में बुरी तरह फंसाया था। भारत को सीरीज जिताने में इन दोनों की बड़ी भूमिका रही थी।

वहीं मेजबान टीम ज्यां पॉल ड्यूमिनी की कप्तानी में उतरेगी। नियमित कप्तान फाफ डु प्लेसिस चोट के कारण वनडे के अलावा टी-20 सीरीज से भी बाहर हैं।

वनडे में मेजबान टीम जो थी टी-20 में वो उससे अलग साबित हो सकती है क्योंकि उसके पास खेल के छोटे प्रारुप के विशेषज्ञ हैं। टीम के पास अब्राहम डिविलियर्स, डेविड मिलर और क्रिस मौरिस के रूप में टी-20 के बेहतरीन खिलाड़ी हैं। यह तीनों हालांकि वनडे सीरीज में पूरी तरह से विफल रहे थे। मिलर ने चौथे वनडे में जरूर अपना जौहर दिखाया था। इन सभी के अलावा हेइनरिक क्लासेन भी इस प्रारुप में भारत के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं।

टीमें (सम्भावित) :

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, मनीष पांडे, अक्षर पटेल, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, शार्दूल ठाकुर।

दक्षिण अफ्रीका : ज्यां पॉल ड्यूमिनी (कप्तान), फरहान बेहरदीन, जूनियर डाला, अब्राहम डिविलियर्स, रीजा हेंड्रिक्स, किस्टियन जोंकर, हेइनरिक क्लासेन (विकेटकीपर), डेविड मिलर, क्रिस मौरिस, डेन पेटरसन, एरॉन फांगिसो, अंदिले फेहुलकवायो, तबरेज शम्सी, जोन-जोन सम्ट्स।