महेंद्र सिंह धोनी के बाद सुरेश रैना ने भी लिया संन्यास

suresh reina
Suresh Raina announces retirement from international cricket

सीधी जानकारी

नई दिल्ली। महेंद्र सिंह धोनी के 15 अगस्त को संन्यास लेने की घोषणा के बाद भारतीय क्रिकेटर और चेन्नई सुपर किंग्स में उनके साथी खिलाड़ी सुरेश रैना ने भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी।

रैना ने कैसे लिया सन्यास

बाएं हाथ के बल्लेबाज रैना ने सोशल मीडिया के जरिए अपने संन्यास की घोषणा की है। धोनी के संन्यास के एलान के तुरंत बाद ही रैना ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट पर लिखा कि वह भी धोनी की इस यात्रा में शामिल हो रहे हैं।

रैना ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की है और इस तस्वीर के साथ उन्होंने लिखा कि माही आपके साथ खेलना अच्छा था। पूरे दिल से, गर्व के साथ, मैं आपकी इस यात्रा में शामिल होना चाहता हूं। थैंक यू इंडिया। जय हिन्द।

रैना का जन्म और खेल सफर

रैना भारतीय टीम से लंबे समय से बाहर चल रहे थे। उन्‍होंने 17 जुलाई 2018 को इंग्‍लैंड के खिलाफ लीड्स में खेले गए एकदिवसीय मैच के बाद से कोई अंतर्राष्ट्रीय मैच नहीं खेला था। उनका जन्म 27 नवंबर 1986 को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के मुरादनगर में हुआ था।

भारत के सर्वश्रेष्‍ठ क्षेत्ररक्षकों में से एक माने जाने वाले रैना ने 30 जुलाई 2005 को श्रीलंका के खिलाफ एकदिवसीय मैच से अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत की थी। उन्होंने भारतीय टीम के लिए 18 टेस्ट मैचों में 26.48 के औसत से 768 रन रन बनाए जिसमें एक शतक और सात अर्धशतक शामिल हैं।

रैना ने 226 एकदिवसीय मैच में 35.31 के औसत से 5615 रन बनाए हैं और इस प्रारूप में उनके नाम पांच शतक और 36 अर्धशतक दर्ज हैं। रैना ने 78 टी-20 मैचों में एक शतक और पांच अर्धशतकों की मदद तथा 29.16 के औसत से 1605 रन बनाए हैं।

रैना की ख़ास बाते

रैना पहले भारतीय खिलाड़ी है जिन्होंने तीनो फार्मेट में शतक लगाया है। उनके नाम आईपीएल में सबसे अधिक रन बनाने और मैच खेलने का रिकार्ड दर्ज है। चेन्नई सुपरकिंग्स के सबसे लोकप्रिय खिलाड़ियों में से एक रैना टी-20 विश्व कप 2007, विश्वकप 2011 और चैंपियंस ट्रॉफी 2013 जीतने वाली भारतीय टीम का अहम हिस्सा रहे थे।

महेन्द्र सिंह धोनी ने 15 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास