RSS अवसरवादी राजनीति में विश्वास नहीं करता : अमर सिंह

Amar Singh says RSS does not believe in opportunistic politics

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के राष्ट्रीय स्वयं संघ के नागपुर स्थित मुख्यालय में संबोधन को लेकर चल रही बहस के बीच समाजवादी पार्टी से निष्कासित राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने संघ के समर्थन में कसीदे पढ़े और कहा कि वह अवसरवादी राजनीति में विश्वास नहीं करता है तथा सभी राजनीतिक दलों को उससे सबक लेना चाहिए।

सिंह ने शुक्रवार को ट्विटर पर एक वीडियो अपलोड किया है। डेढ़ मिनट के इस वीडियो में सिंह ने सपा के साथ अपने रिश्ते और संघ के बारे में अपनी राय जाहिर की है।

वीडियो हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में योग और प्राकृतिक चिकित्सा केन्द्र के शिलान्यास का है जिसमें सांसद ने कहा कि सारा जीवन समाजवादी पार्टी और मुलायम सिंह को दिया और जब सपा की 25वीं सालगिरह मनाई गई तो स्वयं मुलायम सिंह ने मुझसे कहा कि आपका योगदान तो बहुत है लेकिन आपके आने से अखिलेश नाराज हो जाएगा।

आप शुभकामना का पत्र दे दें लेकिन मैं बहुत दुख के साथ आपको सलाह देता हूं कि राष्ट्रीय महासचिव एवं संसदीय बोर्ड का सदस्य होने के बावजूद आप लखनऊ के कार्यक्रम में न आएं।

संघ के बारे में सिंह ने कहा कि चंद दिनों की पहचान में मैंने पाया कि संघ को बदनाम किया जाता है। संघ के शीर्ष पदाधिकारी ने मेरा बहुत सम्मान किया। मुझे मुख्य अतिथि के रुप में बुलाया और सम्मानित किया। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने भी संघ की यह विशिष्टता देखी होगी कि वह किसी को अपनाता नहीं है।

इसके अलावा सिंह ने लिखा कि मैं संघ के प्रति अपना आभार प्रकट करना चाहूंगा और मैं यह महसूस करता हूं कि वह अवसरवाद की राजनीति में विश्वास नहीं करता है। अन्य राजनीतिक दलों को संघ से सबक सीखना चाहिए।