अहमदाबाद बम धमाकों के आरोपी आतंकी तौकीर की 20 दिन की रिमांड मंजूर

अहमदाबाद। गुजरात के अहमदाबाद में 26 जुलाई 2008 को 57 लोगों की मौत का कारण बने 21 शृंखलाबद्ध बम धमाकों के मुख्य आरोपियों में से एक अब्दुल सुभान कुरैशी उर्फ तौकीर को आज यहां एक विशेष अदालत में पेश किया गया जिसने उसे इस आतंकी घटना की जांच कर रही स्थानीय क्राइम ब्रांच को पूछताछ के लिए 23 मार्च तक हिरासत में सौंप दिया।

कुख्यात आतंकी रियाज और यासिन भटकल के करीबी रहे इंडियन मुजाहिदिन और सिमी के आतंकी तौकीर को दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने गत 21 जनवरी को पकड़ा था। वह मुंबई के ट्रेन में विस्फोट, दिल्ली और मुंबई के विस्फोट तथा सूरत में ऐसे षडयंत्र का आरोपी है। उसे कल ही यहां लाया गया था।

क्राइम ब्रांच के जेसीपी जेके भट्ट ने बताया कि आगे की पूछताछ के लिए 30 दिन के लिए उसके हिरासत की मांग की गयी थी पर अदालत ने 20 दिन यानी 23 मार्च को दोपहर तीन बजे तक के लिए उसे हिरासत पर सौंपा। उससे अब विस्तार से पूछताछ की जाएगी।

वह पहले वटवा और वडोदरा में भी रह चुका है। 46 वर्षीय तौकीर मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रामपुर का रहने वाला है तथा मुंबई के मीरा रोड में रहता था। वह लंबे समय की फरारी के बाद पकड़ा गया था। वह पेशे से इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियर है और उसने अहमदाबाद प्रयुक्त बम तथा इसके सर्किट आदि तैयार करने में मदद की थी।

उसने केरल में तथा मध्य गुजरात के जंगलों में आतंकी शिविरों में भी शिरकत की थी। उसने वडोदरा के एक स्थानीय भाजपा नेता राकेश शाह, जो लाल चौक पर तिरंगा फहराने के नरेन्द्र मोदी के अभियान का हिस्सा रहे थे, के कार्यालय की भी रेकी की थी।