शहीद मुरलीधर की उदयपुर में राजकीय सम्मान के साथ अंत्येष्टि

Murlidhar lohar Cremation Ceremony with state honor in Udaipur
Murlidhar lohar Cremation Ceremony with state honor in Udaipur

उदयपुर। जम्मू कश्मीर के लेह में प्रशिक्षण के दौरान शहीद हुए वायु सैनिक मुरलीधर लौहार का शनिवार को उनके पैतृक गांव उदयपुर जिले के धारता में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

शहीद मुरलीधर के पिता जयराम लोहार, भाई राधेश्याम, मिट्ठालाल, जीतेन्द्र लोहार ने शहीद को मुखाग्नि दी। इस अवसर पर वायुसेना के जवानों ने हवा में फायर कर शहीद को गार्ड आॅफ आॅनर दिया।

इससे पहले वायुसेना की बटालियन ने शहीद काे उनका पार्थिव शरीर तिरंगे में लपेटकर सलामी दी। इस दौरान भारत माता की जय एवं मुरलीधर अमर रहे के नारों से आसमान गुंजायमान हो गया।

शहीद की पार्थिव देह सुबह आठ बजे धारता चौराहे पर ग्रामवासियों एवं आमजन के दर्शनार्थ के लिए रखी गयी जहां राज्य के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया, चित्तौड़गढ़ सांसद चन्द्र प्रकाश जोशी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शांतिलाल चपलोत ने शहीद की पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र समर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर मोक्षधाम स्थल पर शोक सभा का आयोजन भी किया गया। सभा में गांववासियों ने एक प्रस्ताव रखा कि धारता राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय का नाम बदलकर इसे श्री मुरलीधर लोहार राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, धारता करने एवं इसमें शहीद की मूर्ति लगाने एवं परिवार के सदस्य को सरकार में सम्मान जनक पद पर राजकीय सेवा में लिया जाए।

इस मौके पर कटारिया ने शहीद के नाम पर एक पार्क बनाने की घोषणा करते हुए कहा कि जिसमें शहीद मुरलीधर की मूर्ति लगाई जाए। इस पर सांसद सीपी जोशी, विधायक दलीचंद डांगी एवं जिला प्रमुख शांतिलाल मेघवाल ने पांच-पांच लाख रूपए देने की घोषणा की। समाजसेवी हिम्मत सिंह दधिवाडिया ने भी इक्यावन हजार रूपए की राशि परिवार के आर्थिक सहयोग के लिए देने की घोषणा की।