असम के कछर जिले में एआईएसएफ जवान की लिंच कर हत्या

सिलचर। असम के कछर जिले के सोनबरीघाट इलाके में भीड़ ने बाइक से टक्कर के बाद असम औद्योगिक सुरक्षा बल के एक जवान की शनिवार सुबह हत्या कर दी। मृतक जवान की पहचान इलाके के दक्षिण कृष्णापुर गांव निवासी बकतर उद्दीन बरभुइया (50) के रूप में हुई है।

पुलिस के मुताबिक एआईएसएफ का जवान सुबह 8 बजकर 30 मिनट पर अपने मोटरबाइक से ड्यूटी करने सिलचर के लिए निकला था। सोनबरीघाट की एक थोक सब्जी मंडी में पहुंचने पर उसकी मोटरसाइकिल एक युवक से टकरा गई। इस घटना में हालांकि कोई घायल नहीं हुआ, लेकिन स्थानीय लोगों ने एआईएसएफ जवान के साथ हाथापाई शुरू कर दी और पीट-पीट कर हत्या कर दी।

गंभीर रूप से घायल जवान को तुरंत सिलचर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कछर के पुलिस अधीक्षक मनबेंद्र देब रॉय के नेतृत्व में सिलचर से आई पुलिस के एक दल ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी है।

इस घटना के सिलसिले में सोनबरीघाट वीडीपी के अध्यक्ष अयूब बकत मजूमदार और एक महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार भर किया गया है तथा पुलिस लिंचिंग में शामिल और लोगों की तलाश में जुटी है।

इस बीच, घटना के तुरंत बाद जमा भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और इस दौरान भाग रहे दो युवक सोनबरीघाट के बराक नदी में कूद गए। उनमें से एक युवक नदी पार करने में कामयाब रहा जबकि पप्पू बरभुइया (22) नामक दूसरा युवक नदी में डूब गया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घटना के बाद जिले में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।