अजमेर : एक तरफ बंद समर्थक, दूसरी तरफ बंद विरोधी

अजमेर। गुरुवार को एक तरफ शहर में एसी/एटी एक्ट के खिलाफ केन्द्र सरकार के पारित कानून के विरोध में बंद समर्थक बंद को सफल बनाने में जुटे रहे वहीं दूसरी तरफ केन्द्रीय बस स्टेंड स्थित अंबेडकर सर्किल पर एक्ट के समर्थक जुट गए। किसी प्रकार के तनाव की स्थिति न बने इसके लिए बडी संख्या में पुलिस बल मौके पर तैनात ​किया गया।

अंबेडकर सर्किल पर जमा लोगों का नेतृत्व कर रहे एससी एसटी आरक्षण मंच के अध्यक्ष प्रकाश मीणा ने कहा कि हम इस बंद का विरोध करते हैं। कथित सर्वधर्म समाज के नाम पर कानून को हाथ में लेकर बंद कराने वालों को कानून की पालना करनी ही होगी। हम किसी को कानून हाथ में नहीं लेने देंगे। हम इसका विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि बाबा साहब की मूर्ति कोई न तोड दें इसकी सुरक्षा के लिए यहां जमा हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि दुखद बात यह है कि खुद प्रशासन उचित कार्रवाई करने के बजाय खुद बंद का समर्थन कर रहा है।

अनुसूचित जाति जन जाति संघर्ष समिति के ईश्वर राजोरिया कहा कि हमें सूचना मिली थी कि कुछ असामाजिक तत्व बाबा साहब की प्रतिमा को तोड सकते हैं, इसी कारण सुरक्षा के लिए हम यहां जमा हुए है। मनुवादी ताकतों की हरकते बर्दास्त नहीं की जाएंगी। हम व्यापारियों आम जन से आवहान करते हैं कि बंद जैसी कोई स्थिति नहीं है, अपने प्रतिष्ठान खुले रखें।

अजमेर में बंद का असर, व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के नहीं खुले ताले