आलाकमान की फजीहत करने में जुटे अजमेर बीजेपी के पदाधिकारी!

अजमेर। राजस्थान में बीजेपी अध्यक्ष की अधरझूल में अटकी ताजपोशी से विपक्षी दल कांग्रेस को तो चुटकी लेने का मौका मिल ही रहा है साथ ही अनुशासित कही जाने वाली बीजेपी की फजीहत कराने में पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता भी पीछे नहीं है।

सोशल मीडिया पर सक्रिय अजमेर बीजेपी के एक मंडल अध्यक्ष राजेश शर्मा ने ऐसी पोस्ट डाली है जो पार्टी के आलाकमान और बडे नेताओं को आईना दिखा रही है। कैडर बेस कहीं जाने वाली पार्टी में इस तरह की पोस्ट अमूमन नजर नहीं आती। उन्होंने लिखा है कि जो लोग 8 दिन में एक ‘निर्णय’ नहीं ले पा रहे वो ही कल कार्यकर्ताओं को ‘एकजुट’ होने का आदेश देंगे।

इस पोस्ट में हालांकि सीधे तौर पर किसी विषय और नामों का उल्लेख नहीं किया गया है। लेकिन इस पोस्ट पर आ रहे कमेंट खुद बयां कर रहे हैं कि बीजेपी के वफादार कार्यकर्ता और पदाधिकारी भी उसकी फजीहत कराने में पीछे नहीं हैं। उन्हें न अनुशासन का कथित डंडा रोक सकता है न पार्टी के आला नेता।

उधर भारतीय जनता पार्टी में मचे घमासान पर तंज कसते हुए राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि चुनावी साल में संभावित हार को देखते हुए कोई भी व्यक्ति भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनने को तैयार नहीं है।

पायलट ने दावा किया कि बीजेपी अपने संगठन और मंत्रिमंडल में कितने भी बदलाव करले लेकिन इसके बावजूद आगामी चुनावों में कांग्रेस को सत्ता में आने से वह रोक नहीं सकती।

उन्होंने कहा कि भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष कौन बने यह पार्टी का आंतरिक मामला है लेकिन चुनावी साल में संभावित हार को देखते हुए कोई भी व्यक्ति बलि का बकरा बनने को तैयार नहीं है।