उपचुनाव में राजस्थान की तीनों सीटों पर होगी BJP की जीत : खन्ना

ajmer by-election 2018 avinash rai khanna addressing press conference at bjp election office in ajmer
ajmer by-election 2018 avinash rai khanna addressing press conference at bjp election office in ajmer

अजमेर। भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी रामस्वरूप लांबा मार्जिन वोटों से जीतेंगे साथ ही अलवर और मांडलगढ सीट पर भी बीजेपी परचम फहराएगी। ये उपचुनाव कुशासन और सुशासन के बीच जंग की तरह है। हम सुशासन देते हैं इसलिए मतदाता हमारे साथ खुद ब खुद खडा हो जाता है। यह दावा पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं राजस्थान उपचुनाव प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने गुरुवार को पार्टी के अजमेर स्थित मुख्य चुनाव कार्यालय में आयोजित एक प्रेस वार्ता के दौरान किया।

उन्होंने कहा कांग्रेस शासन विहीन, मुद्दा विहीन, नेतृत्व विहीन पार्टी हो चुकी है। हार के डर से बौखलाई कांग्रेस के नेता अब अपना आपा खो रहे हैं और गलत बयानी करने पर उतर आए हैं। अजमेर से कांग्रेस प्रत्याशी रघुशर्मा ने तो यह तक कह डाला है कि उनकी सरकार बनी तो सबसे पहले भामाशाह कार्ड को तोड कर फेंक देंगे। भामाशाह कार्ड का अपमान उनकी नीयत में खोट को दर्शाता है। यह भामाशाह कार्ड ही है जिसके जरिए हजारों गरीब परिवारों को संबल मिल रहा है। क्या कांग्रेस गरीबों का हक छीनने के लिए सत्ता में आने का सपना देख रही है? जनता चुनाव में वोट के जरिए उन्हें इसका करारा जवाब देगी।

उन्होंने जनता की तरफ से भाजपा को मिल रहे अपार समर्थन की बात दोहराते हुए कहा कि लाल बहादुर शास्त्री के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ऐसे नेता हुए हैं जिनके आग्रह पर एक करोड से अधिक लोगों ने रसोई गैस सब्सिडी का लाभ छोड दिया। इससे तीन करोड गरीब परिवारों तक उज्जवला योजना के जरिए एलपीजी सिलेंडर की सुविधा पहुंची।

ajmer by-election 2018 avinash rai khanna addressing press conference at bjp election office in ajmer
ajmer by-election 2018 avinash rai khanna addressing press conference at bjp election office in ajmer

देश के कई गांव अब भी बिजली से महरूम है, मोदी सरकार की कोशिश हर गांव को रोशन करने की है। क्योंकि बिजली ही नहीं होगी तो टीवी, इंटरनेट की सुविधा का लाभ ग्रामीण कैसे ले पाएंगे। गांव गांव बिजली पहुंचाने का काम सरकार की प्राथमिकता में है। हम आम जन को सुसाशन और सम्मान देने की राजनीति करते हैं। समय समय पर संवाद और जनसुनवाई जरिए राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे जनता से जुडी रहती हैं। आमजन की मांग पर ही योजनाएं बनती हैं और विकास कार्य कराए जाते हैं। अजमेर जिले में तो केन्द्र सरकार की हर योजना का लाभ मिला है और बडे पैमाने पर विकास कार्य हुए हैं।

बीजेपी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो बिना भेदभाव के हर क्षेत्र, जाति, समाज के लिए विकास के कार्य करती आ रही है। हम शिलान्यास और उदघाटन करने की बजाय काम करने में विश्वास रखते हैं। खासकर राजस्थान में तो ऐतिहासिक रूप से विकास कार्य हुए हैं जो प्रदेश के सुनहरे इतिहास के रूप में दर्ज किया जाएगा। केन्द्र और भाजपा शासित राज्यों में तो हर एमएलए और सांसद को विकास कार्यो का ब्योरा दस्तावेज के रूप देना होता है। इस पार्टी में काम न करने का कोई बहाना नहीं चलता।

उन्होंने इस बात को सिरे से खारिज कर दिया कि अजमेर जिले में जातिगत आधार पर राजनीति की जा रही है, उनका कहना था कि अजमेर सर्वधर्म सदभाव की नगरी रही है, जिले भर में समाज के हर वर्ग का तबका निवास करता है। हमने कभी किसी को छोटा या बडा के आधार पर वर्ग भेद नहीं किया। बिना जात बिरादरी पूछे विकास की गंगा बहाई। राजनीति में अलग अलग विचारधारा की पार्टी होती है, विचारधारा के आधार पर होने वाले विरोध को जनता या समाज की नाराजगी से जोडकर नहीं देखा जाना चाहिए।