अजमेर में 25050 लोगों ने बनाई मानव श्रृंखला, मतदान की शपथ

ajmer by-election 2018 : Human chain to create awareness about the importance of voting

अजमेर। 25 जनवरी गुरूवार का दिन अजमेर के इतिहास में एक प्रमुख दिन के रूप में दर्ज हो गया है। लोगों ने हाथ से हाथ मिलाकर जो उपलब्धि हासिल की वह पूरे देश में मतदान जागरूकता के लिए मिसाल बन गई। अजमेर के 25050 लोगों ने ना सिर्फ मतदान की शपथ ली बल्कि ऎतिहासिक आनासागर झील के चारों तरफ मानव श्रृंखला बनाकर मतदान का संकल्प भी लिया। शहर की यह उपलब्धि देश की सर्वाधिक प्रतिष्ठित इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज की गई है।

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलक्टर गौरव गोयल के निर्देशन में मतदान जागरूकता के लिए आज पूरा शहर आनासागर झील के चारों तरफ उमड़ पड़ा। शहर के लोगों को आगामी लोकसभा उपचुनाव में मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए गुरूवार को आनासागर झील के चारों तरफ मानव श्रृंखला बनाई गई। इस अवसर पर उपस्थित सभी मतदाताओं एवं भावी मतदाताओं ने मतदान अवश्य करने की शपथ भी ली।

इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्डस में दर्ज हुई उपलब्धि

अजमेर शहर के 25050 लोगाें ने मानव श्रृंखला एवं मतदान शपथ कार्यक्रम में भाग लिया। अजमेर में मौजूद इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्डस की टीम ने इसे अनूठी उपलब्धि मानते हुए रिकॉर्ड में दर्ज करने का निर्णय किया। अजमेर को दो श्रेणियों में रिकॉर्ड में शामिल किया गया है। पहली श्रेणी झील के चारों ओर सबसे लम्बी मानव श्रृंखला तथा दूसरी श्रेणी सर्वाधिक व्यक्तियों द्वारा मतदान शपथ के रूप में दर्ज की गई है। इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स के चीफ एडिटर बिस्वरूप रॉय चौधरी ने इन दोनों उपलब्धियों के प्रमाण पत्र जारी किए हैं।

इस तरह बढ़ता गया कारवां

आनासागर झील के चारों ओर सुबह आठ बजे से ही विभिन्न संस्थाओं, स्कूली बच्चों और आमजन का जुटना शुरू हो गया। 9 बजे तक निर्धारित 24 स्थानों पर सभी सहयोगियों को व्यवस्थित कर उन्हें शपथ प्रारूप सौंपा गया। इसके पश्चात सभी को जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव गोयल द्वारा मतदान शपथ दिलाई गई।

मानव श्रृंखला का निर्माण एवं निरीक्षण

जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव गोयल ने संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीना, पुलिस महानिरीक्षक मालिनी अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह चौधरी, जिला परिषद के सीईओ अरूण गर्ग, अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाश चंद शर्मा, अबु सूफियान चौहान एवं अरविंद सेंगवा, स्वायत शासन विभाग के उप निदेशक किशोर कुमार सहित अन्य अधिकारियाेंं एवं गणमान्य व्यक्तियों के साथ खुली जीप में सवार होकर मानव श्रृंखला का निरीक्षण किया।

सेल्फी विद इपिक के लिए दिखाई दिया जोश

राष्ट्रगान के पश्चात कार्यक्रम में उपस्थिति लोगोें में सेल्फी विद एपिक के प्रति जोरदार उत्साह दिखाई दिया। यह फोटो व्हाट्सएप नम्बर 7737597589 पर भेजे जा सकते हैं।

24 स्थानों पर किया गया पंजीकरण, स्वीप किट वितरित

आयोजन में भाग लेने वाले सभी स्कूलों, पुलिस व पेरा मिलीट्री फोर्स के जवानों, प्रशासनिक अधिकारियों, आमजन एवं संस्थाओं का 24 स्थानों पर पंजीयन कर स्वीप किट वितरित किए गए। आनासागर लिंक रोड़, शिव मन्दिर क्रिशिचयन गंज, टाटा मोटर्स आनंद नगर, मानसिंह पैलेस, अरबन हाट, वैशाली नगर बस स्टैण्ड, एचकेएच स्कूल, एमपीएस स्कूल, वृंदावन गार्डन, डेमोन्सट्रेशन स्कूल, सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, मित्तल हॉस्पीटल, आदित्य पैलेस, अद्वैत आश्रम, फॉय सागर पुलिस चौकी, नागफनी चौराहा, ऋर्षि उद्यान, घाटी वाले बालाजी, बाराहदरी, भैरूजी का मन्दिर, सुभाष उद्यान, बजरंग गढ़, मिराज मॉल तथा एनसीसी ऑफिस पर पंजीकरण किया गया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की भी रही भूमिका

मानव श्रृंखला में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की भूमिका रही। इस कार्यक्रम में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट गणपतलाल विश्नोई, पूर्णकालिक सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण राकेश गोरा, अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट संख्या 2 मुकेश परनामी भी उपस्थित रहे। साथ ही झण्डा वितरण कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया।