कांग्रेस के राज में फर्जी कंपनियों का चल रहा था गौरख धंधा : पीपी चौधरी

ajmer by-election 2018 : union minister PP Chaudhary press conference at bjp election office in ajmer
ajmer by-election 2018 : union minister PP Chaudhary press conference at bjp election office in ajmer

अजमेर। विधिक और कंपनी मामलों के केंद्रीय राज्य मंत्री पीपी चौधरी ने कहा कि कांग्रेस के राज में फर्जी कंपनियों का गौरख धंधा चल रहा था। देश में कंपनी एक्ट के तहत 16 लाख कंपनियां रजिस्टर थीं। इनमें से केवल 11 लाख कंपनिया एक्टिवेट थी। मोदी सरकार ने कडा कदम उठाते हुए दो लाख से अधिक फर्जी कंपनियों को निरस्त किया। वे मंगलवार को भाजपा चुनाव कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे।

कांग्रेस राज में इन कंपनियों के माध्यम से मनी लॉन्डिग और कालेधन से जुडे काम हो रहे थे। मोदी सरकार ने ऐसी सभी कंपनियों के बैंक अकाउंट फ्रीज किए। आने वाले समय में ऐसी फर्जी कंपनियों से जुडे कई बडे चेहरे बेनकाब होंगे।

चौधरी ने कांग्रेस नेताओं के सत्ता में आने के बाद भामाशाह कार्ड को फाड कर फैंकने के बयान की निंदा करते हुए कहा कि चूंकि भामाशाह कार्ड से लाखों गरीबों और जरूरत मंदों को लाभ हो रहा है। इससे कई तरह के भ्रष्टाचारों पर रोक लगी है। कांग्रेस नहीं चाहती की गरीब जनता को उनके हक का सीधा लाभ मिले।

चौधरी ने कहा कि देश से कांग्रेस की जडे उखड चुकीं हैं। जनता कांग्रेस के विचार को हर राज्य में नकार चुकी है। कांग्रेस ने हमेशा गरीबों को चुनावी मुदृदा बनाया लेकिन 60 साल के शासन में गरीबों के लिए किया कुछ भी नहीं। कांग्रेस राज में बनी हर योजना में खुलकर भ्रष्टाचार हुआ।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी ने तो सार्वजनिक रूप से कहा था कि केंद्र से चला एक रूपया लोगों तक पहुंचते पहुंचते 15 पैसे हो जाता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में व्याप्त 85 प्रतिशत भ्रष्टाचार को समाप्त करने का बीडा उठाया। आज केंद्र हो या राज्य सरकार। मोदी सरकार की सारी योजनाएं पूरी तरह पारदर्शी है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान में भी वसुंधरा सरकार के राजे में किसान, मजदूर और महिलाओं की जीवन सुरक्षा और उनके विकास के लिए चल रही योजनाओं का लाभ करोडो लोगों को सीधा मिल रहा है।

ajmer by-election 2018 : union minister PP Chaudhary meets lawyers in ajmer

कानून राज्य मंत्री ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा के राज में एक बडा अंतर है। भाजपा के राज में काम तेजी से हो रहे है। प्रधानमंत्री की नीतियों के कारण भारत का दुनिया भर में मान बडा है। जहां एक ओर प्रधानमंत्री 16-18 घंटे काम कर देश की तस्वीर बदलने के काम में लगे हैं, वहीं राजस्थान में वसुंधरा राजे की जन विकास नितियों के चलते ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में हुए विकास के कारण तस्वीर बदल रही है।

चौधरी ने कहा कि कांग्रेस के पास जनता के बीच जाने के लिए मुददे नहीं हैं। भाजपा एक राष्टवादी संगठन है। भाजपा देशहित और समाज को ध्यान में रखकर ही निर्णय लेती है। प्रेस वार्ता में सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री अरूण चतुर्वेदी, धरोहर प्रोन्नित प्राधिकरण के चेयरमैन ओंकारसिंह लखावत, ई ग्रंथालय प्रदेश प्रमुख आशीष चतुर्वेदी, मीडिया संपर्क विभाग के प्रदेश प्रमुख आनंद शर्मा थे।

ajmer by-election 2018 : union minister PP Chaudhary meets lawyers in ajmer

कानून मंत्री ने अधिवक्ताओं से किया संवाद

केंद्रीय कानून राज्य मंत्री पीपी चौधरी ने भाजपा विधि प्रकोष्ठ की ओर से आयोजित सभा में अधिवक्ताओं के साथ संवाद किया। विधि प्रकोष्ठ की ओर से स्वामी कॉम्पलेक्स में भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप लांबा के समर्थन में सभा आयोजित की गई।

सभा में कानून राज्यमंत्री चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश प्रगति कर रहा है। अंतराष्ट्रहय स्तर पर दुनिया के देश भारत को उभरती हुई शक्ति के रूप में देख रहे है।

विधि प्रकोष्ठ की सभा में प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष सुरेंद्रसिंह नरूका ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में देश और राज्य ने विकास के नए आयाम स्थापित किए है।

सभा में जिला अध्यक्ष एडवोकेट मनोज डीडवानियां, सह संयोजक कुलदीपसिंह गहलोत, उमेश शर्मा, समीर काले, प्रशांत यादव, अशोक माथुर, नीरज जैन, बार अध्यक्ष मोहनसिंह राठौड, केजी जोशी ने भाजपा को विजयी बनाने का संकल्प लिया। मंच संचालन एडवोकेट समीर शर्मा ने किया।

यह भी पढें

अजमेर चुनाव : मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे करेंगी पार्टी कार्यकर्ताओं से संवाद
पुष्कर में लांबा के समर्थन में जुटे लोग, दिलाया जीत का भरोसा
सुभाष चंद बोस जयंती पर युवा मोर्चा ने निकाली कमल विजय यात्रा
सीएम की बहू निहारिका राजे ने घूघरा देव मंदिर में लगाई धोक
विकास ही हमारा मुद्दा, विकास ही हमारी पहचान : चन्द्रशेखर