निःशक्तजनों के ऋण आवेदन प्राथमिकता से करें स्वीकृत : डोगरा

अजमेर। कलक्टर आरती डोगरा ने बैंकर्स द्वारा राष्ट्रीय योजनाओं में ऋण स्वीकृति के कार्य में शिथिलता को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने बैंकर्स को चेताया कि वे राष्ट्रीय योजनाओं एवं प्रधानमंत्री की फ्लेगशिप योजनाओं में पात्र व्यक्तियों को समय पर लाभ नहीं दिला पाए तो उनके विरूद्ध भारतीय रिजर्व बैंक को लिखा जाएगा।

सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्तरीय बैंकर्स समन्वय समिति (डीएलसीसी) की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने बैंकर्स से कहा कि वे विभिन्न योजनाओं में लक्ष्यानुरूप आवेदन पत्र प्राप्त करें तथा उन्हें समय रहते स्वीकृत करें, जो आवेदन पत्र स्वीकृति योग्य नहीं है उन्हें कारण सहित अस्वीकृत कर दें। प्रार्थी को अनावश्यक विलम्ब करना उचित नहीं है।

उन्होंने कादेड़ा एवं पीसांगन एसबीआई शाखा द्वारा ऋण आवेदन पत्र पर कोई कार्यवाही नहीं किए जाने को काफी गंभीरता से लिया। उन्होंने बताया कि समस्त योजनाओं के इस वर्ष के लक्ष्य प्राप्त हो गए हैं, जो संबंधित बैंकर्स को वितरित कर दिए जाएंगे।

कलक्टर ने कहा कि निःशक्त जनों को विभिन्न योजनाओं में बैंकर्स तत्काल लाभ प्रदान करें। यह एक सामाजिक दायित्व भी है। बैंकर्स यथासंभव उनकी मदद करें। संबंधित विभाग उनके आवेदन पत्र तैयार कर भिजवाएगा।

उन्होंने अनुजा निगम के परियोजना प्रबंधक को भी निर्देशित किया कि वे अनुजा निगम की विभिन्न योजनाओं में लक्ष्य से अधिक आवेदन पत्र तैयार करवा कर बैंकों को भिजवाएं। इसी प्रकार अन्य प्रायोजित योजनाओं में भी अगस्त माह तक लक्ष्यानुरूप समस्त आवेदन बैंकर्स को भिजवा दी जाए।

उन्होंने मुद्रा योजना का व्यापक प्रचार प्रसार करने पर जोर दिया तथा योजना में अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि आधार कार्ड बनाने का कार्य विभिन्न बैंक शाखाओं में भी किया जाने लगा है। बैंकर्स जिन शाखाओं में यह आधार कार्ड बनाए जा रहे हैं, उन्हें प्रचारित करें ताकि लोगों को इसकी जानकारी हो सकें।

जिला कलक्टर ने जिले के किशनगढ़ क्षेत्र क गांव गुड्डा एवं मसूदा क्षेत्र के रूपायली खुर्द में पांच किलोमीटर के दायरे में कोई बैंक नहीं होने से बैंकिग समन्वयक को लगाए जाने केे लिए भी कहा।

बैठक में भारतीय रिजर्व बैंक के प्रतिनिधि ओपी कविया ने सभी बैंकर्स को निर्देशित किया कि इस बैंठक में बैंक के नियंत्रक आवश्यक रूप से उपस्थित रहे। इस वर्ष की बैठकों का कार्यक्रम तय कर दिया गया है, उसी अनुरूप बैठक में उपस्थित हो। उन्होंने सभी बैंकर्स को निर्देश दिए कि दस रूपए के सिक्के लेने से कोई मना नहीं करें। सिक्के आवश्यक रूप से स्वीकार किए जाएं। उन्होंने सीडी अनुपात बढाए जाने पर भी जोर दिया।

बैंठक में जिला कलक्टर ने लीड बैंक द्वारा प्रकाशित वार्षिक साख योजना की पुस्तिका तथा बडौदा स्वरोजगार विकास संस्थान के वार्षिक प्रगति प्रतिवेदन पुस्तिका का विमोचन भी किया। अग्रणी बैंक जिला प्रबंधक आरपी अग्रवाल ने विभिन्न योजनाओं में हुई प्रगति की जानकारी दी।

इस मौके पर नाबार्ड के एजीएम बीबी खरबंदा, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी भगवतसिंह, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक सीबी नवल सहित समस्त बैंकर्स एवं संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे।