अजमेर : राजस्थान शिक्षक संघ राधाकृष्णन का शैक्षिक सम्मेलन

अजमेर। राजस्थान शिक्षक संघ राधाकृष्णन व राधाकृष्णन शिक्षिका सेना के संयुक्त तत्वावधान में जिला स्तरीय विशाल संयुक्त शैक्षिक सम्मेलन शुक्रवार को जवाहर रंगमंच में आयोजित किया गया। सम्मेलन का उद्घाटन सुबह 9 बजे हुआ। जिले से 2478 शिक्षक भाइयों बहनों ने शिरकत की। जवाहर रंगमंच के मुख्य द्वार पर संगठन की बहनों ने तिलक लगाकर, मौली बांधकर तथा ऊपरना ओढाकर शिक्षक भाइयों-बहनों का स्वागत किया।

उपशाखा अध्यक्ष लोकेश वर्मा, विजय सिंह रासलोत, वीरेंद्र शर्मा, संजय डिया, रविंद्र भाटी, जिला अध्यक्ष ब्यावर सुरेश फुलवारी, श्रीनगर से आशीष कुमावत, राधाकृष्णन् शिक्षिका सेना की अजमेर जिला संयोजिका सलमा खान ने उपस्थित शिक्षक शिक्षिकाओं को संबोधित कर शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं पर प्रकाश डाला।

इसी प्रकार जिलाध्यक्ष अशोक सिंह शेखावत व सुरेश फुलवारी ने शिक्षक समाज को संगठित रहने की सीख दी और कहा कि आने वाले समय में शिक्षकों को संगठित होकर शिक्षक समस्याओं के लिए एक मंच पर आकर लड़ना चाहिए और इसके लिए शिक्षक संघ राधाकृष्णन सबसे उपयुक्त मंच है।

शेखावत ने कहा कि शिक्षक संघ राधाकृष्णन एकमात्र ऐसा संगठन है जहां एक दूसरे के साथ में परिवार का वातावरण रखते हुए अपनत्व की भावना से कार्य किया जाता है। प्रदेश मुख्य संरक्षक मेघसिंह चौहान ने संगठन की कार्यशैली पर विस्तार से प्रकाश डाला साथ ही बीते 10 वर्षों में संगठन द्वारा अतुलनीय सफलताएं प्राप्त करने पर हर्ष प्रकट करते हुए सभी कार्यकर्ता व पदाधिकारियों को बधाई दी।

प्रदेश अतिरिक्त महामंत्री जितेंद्र जोशी ने कितने बाजू कितने सर गाना गाकर हॉल को जोर से भर दिया उनके साथ हॉल में उपस्थित हजारों शिक्षक भाई-बहनों ने उक्त गाना गाकर समारोह को एक नया रूप देने का काम किया।

प्रारंभिक शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र सिंह बुन्देल ने समारोह का संचालन करते हुए संगठन के नारे लगवाए तथा संगठन की कार्यशैली में 10 वर्षों के इतिहास पर विस्तार से प्रकाश डाला।

संगठन के प्रदेश महामंत्री अमिताभ ने संगठन के गत दिनों में शिक्षा मंत्री से हुई वार्ता के बारे में सभी को अवगत कराया तथा आगामी दिनों में शिक्षक समस्याओं के लिए होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों पर शिक्षक शिक्षिकाओं को जानकारी दी।

सम्मेलन में शिक्षिका सेना के प्रदेश संयोजिका सुनीता भाटी ने शिक्षिकाओं के लिए राधाकृष्णन शिक्षिका सेना के रूप में एकमात्र संगठन होने का दावा करते हुए शिक्षिका बहनों को अधिक से अधिक संख्या में शिक्षिका सेना से जुड़ने का आह्वान किया। प्रदेश सह संयोजिका सरोज कुमावत ने शिक्षा के विभिन्न कार्यों पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए बताया कि किस प्रकार शिक्षिका सेना शिक्षिका बहनों के लिए सबसे बड़ी हितेषी है।

समारोह के मुख्य अतिथि प्रदेश सचिव प्रदेश कांग्रेस कमेटी महेंद्र सिंह रलावता रहे। उन्होंने मां सरस्वती व संगठन के प्रेरणा पुंज डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर पुष्प अर्पित किए तथा दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की। रलावता ने अपने उद्बोधन में कहा कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता होता है, शिक्षक को कोई मार्गदर्शन नहीं दे सकता। शिक्षक समाज को मार्गदर्शन करता है।

उन्होंने संगठन को आश्वासन दिया कि शिक्षकों की समस्याओं के संदर्भ में जब भी उनके सामने किसी प्रकार की कोई बात आएगी वे आला अधिकारियों, मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री को अवगत कराकर उन समस्याओं को हल कराने का पूर्ण प्रयास करेंगे। रलावता ने कहा कि अजमेर मेरा घर है और अजमेर में रहने वाला प्रत्येक शिक्षक उनका अपना है। मैं किसी प्रकार की राजनीतिक बात करने में विश्वास नहीं करता, शिक्षकों के लिए मेरे दरवाजे हमेशा खुले हैं। शिक्षक संघ राधाकृष्णन के सम्मेलन में आने के लिए शिक्षा मंत्री ने भी सहमति दी थी लेकिन कजाकिस्तान के विदेश दौरे पर होने के कारण वे नहीं आ पाए।

प्रदेश अध्यक्ष विजय सोनी ने सम्मेलन के समापन सत्र में शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए संगठन की कार्यशैली पर प्रकाश डाला। सम्मेलन के समापन के बाद सभी ने सहभोज का आनंद लिया। सहभोज की व्यवस्था ब्यावर जिला शाखा द्वारा की गई थी।

ब्यावर के जिला अध्यक्ष सुरेश फुलवारी का माला व साफा पहनाकर स्वागत अभिनंदन किया गया। सम्मेलन की सफलता में उपशाखा, जिला शाखा, प्रदेश कार्यकारिणी के समस्त साथियों का सहयोग रहा। महेंद्र सहवाल, महेंद्र सिंह बुन्देल, मुकेश मिश्रा, रघुवीर कच्छावा, नवनीत नगर ईश्वर लालवानी, सुरेंद्र यादव, अरविंद शर्मा, अविनाश शर्मा, संजीव यादव, प्रमोद चौधरी, हरिओम शर्मा, दीपिका शर्मा, मृदुला जैन, मधुमती पाराशर, कमला बारूपाल, सलमा खान, संजीदा बेगम, मुकेश सैनी, पाचू सिंह रावत, मदन सिंह रावत, खेमराज मीणा, मनीष मीणा अमिताभ सनाढ्य विजय सिंह रासलोत, लोकेश वर्मा, देवदत्त सुनारिया, जितेंद्र जोशी, प्रकाश चंद हरेंद्र शर्मा कुलदीप रत्नु आदि कार्यकर्ताओं सम्मेलन को सफल बनाने में जुटे रहे।

संगठन के पीसांगन शाखा के संरक्षक चंद्र प्रकाश कुमावत का पीसांगन क्षेत्र में संगठन के लिए किए गए विशेष संपर्क अभियान के लिए अभिनंदन किया गया। उन्होंने अगले माह पीसांगन शाखा में मिनी सम्मेलन कराने की घोषणा की। इसी प्रकार जिला स्तरीय दीपावली स्नेह मिलन कार्यक्रम बिजय नगर में मनाए जाने की घोषणा की गई।