तैश में आए मंत्री वासुदेव देवनानी, मतदान केन्द्रों पर शाम तक रही रौनक

अजमेर। अजमेर लोकसभा उपचुनाव के लिए जिलेभर में सोमवार सुबह आठ बजे से शुरु हुए मतदान ने धूप निकलने के साथ गति पकड ली। शाम होते होते पोलिंग बूथों पर कतारें नजर आने लगीं। मौसम ठंडा होने से सुबह मतदान की गति धीमी देखी जा रही थी। दोपहर में मतदान ने गति पकडी। शहरी और ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों में मतदाता बडी संख्या में मतदान स्थल पहुंचे।

भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप लांबा ने सुबह मतदान स्थल पर पहुंचकर अपना वोट डाला। इसी तरह विधायक भागीरथ चौधरी ने बूथ नंबर 50 पर तथा संसदीय सचिव सुरेश रावत ने पोलिंग बूथ जाकर वोट डाला।

शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्र स्थित रामनगर के संत रामदास स्कूल में वोट डाला। महिला विकास मंत्री अनिता भदेल ने भी मताधिकार का उपयोग किया। दोनों ही मंत्रियों ने वोट डालने के बाद भाजपा की जीत का दावा किया।

अजमेर के लोहाखान स्थित पोलिंग बूथ पर वोट डालने के बाद स्याही लगी अंगुली दिखाते मतदाता।

युवा मतदाताओं और पहली बार वोट डालने का अधिकार मिलने वाले छात्र छात्राओं में खासा उत्साह देखा गया। ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं समूह बनाकर मतदान स्थल पर पहुंची। कुछ मतदान केन्द्रों पर लंबी कतारें भी लगी रहीं।

तैश में आए मंत्री वासुदेव देवनानी

अजमेर शहर के एक मतदान केन्द्र पर शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई की नौबत आ गई। देवनानी ने एक व्यक्ति को पकड लिया और उसे जबरन मतदान केन्द्र से बाहर निकाला गया। जैसे तैसे स्थिति सामान्य हुई। उधर, कांग्रेस का आरोप है कि देवनानी मतदान केन्द्र के 100 मीटर दायरे में मतदाताओं को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे थे। जबकि मतदान स्थल के 200 मीटर तक किसी भी तरह के प्रचार पर पाबंदी है।

मतदाता को वोट पर्ची मुहैया कराने के लिए लगे भाजपा के बूथ पर बैठे कार्यकर्ता।

अजमेर उपचुनाव में 23 प्रत्याशी मैदान में है। संसदीय क्षेत्र के मतदाता इनमें से अपना सांसद चुनेंगे। मुख्य मुकाबला इण्डियन नेशनल कांग्रेस के रघु शर्मा और भारतीय जनता पार्टी के रामस्वरूप लाम्बा के बीच माना जा रहा है।

जिले में शांति पूर्वक तरीके से स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने के लिए व्यापक स्तर पर सुरक्षा इंतजाम किए गए। पुलिस की मोबाइल पार्टीज लगातार पूरे जिले का भ्रमण करती रही।

अजमेर की पंचशील कॉलोनी स्थित महावीर पब्लिक स्कूल में बना मतदान केन्द्र।

मतदान केन्द्रों पर सहायता केन्द्र

ऎसे मतदाताओं जिन्हें फोटोयुक्त मतदाता पर्ची बीएलओ के माध्यम से प्राप्त नहीं हुई है उनकी प्रमाणिकृत फोटोयुक्त मतदाता पर्ची सहायता केन्द्रों पर उपलब्ध कराई गई। मतदाता पर्ची, मतदाता सूची या फोटो पहचान पत्र में फोटो गलत है तो मतदाता को आयोग द्वारा अनुमत वैकल्पिक दस्तावेंजों में से कोई भी एक दस्तावेज अपनी पहचान के लिए मतदान केन्द्र में साथ ले जाना आवश्यक होगा।

अजमेर के रामगंज स्थित पोलिंग बूथ पर लगी मतदाताओं की कतार।
अजमेर के रामगंज स्थित पोलिंग बूथ पर लगी मतदाताओं की कतार।

18 लाख 40 हजार 686 मतदाता

उपचुनाव में अजमेर जिले के 7 विधानसभा क्षेत्रों तथा जयपुर जिले के दूदू विधानसभा क्षेत्र के 18 लाख 40 हजार 686 मतदाता अपने मतदान केन्द्र में जाकर मत का उपयोग कर सकेंगे।विधानसभा क्षेत्र किशनगढ़ में 2 लाख 63 हजार 331 मे से एक लाख 35 हजार 804 पुरूष, एक लाख 27 हजार 522 महिलाएं एवं 5 अन्य, पुष्कर में 2 लाख 25 हजार 669 मे से एक लाख 15 हजार 991 पुरूष एक लाख 9 हजार 673 महिलाएं एवं 5 अन्य, अजमेर उत्तर में 2 लाख 3 हजार 345 मे से एक लाख 2 हजार 473 पुरूष, एक लाख 863 महिलाएं एवं 9 अन्य, अजमेर दक्षिण मे 2 लाख 3 हजार 313 मे से एक लाख 2 हजार 530 पुरूष, एक लाख 776 महिलाएं एवं 7 अन्य, नसीराबाद में 2 लाख 15 हजार 14 मे से एक लाख 9 हजार 830 पुरूष, एक लाख 5 हजार 182 महिलाएं एवं 2 अन्य, मसूदा में 2 लाख 55 हजार 826 मे से एक लाख 30 हजार 942 पुरूष एक लाख 24 हजार 880 महिलाएं एवं 4 अन्य, केकड़ी में 2 लाख 45 हजार 141 मे से एक लाख 24 हजार 657 पुरूष, एक लाख 20 हजार 483 महिलाएं एवं एक अन्य तथा दूदू में 2 लाख 29 हजार 47 मे से एक लाख 19 हजार 40 पुरूष एवं एक लाख 10 हजार 7 महिलाएं हैं।

ये भी पढें

अजमेर : वोट प्रतिशत देख भाजपा खेमे में खुशी, जीत का दावा
तैश में आए मंत्री वासुदेव देवनानी, मतदान केन्द्रों पर शाम तक रही रौनक
अजमेर में उपचुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, 65 प्रतिशत से अधिक मतदान
उपचुनाव : राजस्थान में रिकॉर्ड मतदान, टॉप पर रहा अजमेर
राजस्थान उपचुनाव : अजमेर, अलवर, मंडलगढ़ में मतदान