अजमेर से दिल्ली एवं मुंबई के लिए वंदे भारत ट्रेन चलाने की मांग

अजमेर। राजस्थान में अजमेर के सांसद भागीरथ चौधरी ने अजमेर से दिल्ली तथा अजमेर से मुंबई रेलमार्ग पर भी वंदे भारत ट्रेन संचालित करने की मांग की है।

चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को अलग अलग पत्र लिखकर अगले वर्ष 2023 मे पंद्रह अगस्त तक देश में 74 वंदे भारत ट्रेन में से अजमेर को भी जोड़ते हुए अजमेर से दिल्ली वाया जयपुर तथा अजमेर से मुंबई वाया चित्तौड़गढ़ रतलाम रेलमार्ग पर ट्रेन की सौगात देने की मांग की है।

उन्होंने कहा कि अजमेर ख्वाजा साहब की दरगाह एवं तीर्थराज पुष्कर की वजह से पर्यटन का केंद्रीय बिंदु है। साथ ही दिल्ली मुंबई मार्ग को भी जोड़ता है। अजमेर से महज दस किलोमीटर पर तीर्थराज पुष्कर तथा पच्चीस किलोमीटर पर मार्बल मंडी किशनगढ़ है।

यहां केंद्रीय विश्वविद्यालय तथा विश्व प्रसिद्ध मेयो कॉलेज भी है। इस लाइन पर पर्यटकों, उद्यमियों, व्यापारियों, छात्र छात्राओं तथा विदेशी मेहमानों की आवाजाही नियमित है। वंदे भारत ट्रेन के संचालन से यात्रीभार भी बढ़ेगा।

उन्होंने लिखा कि अजमेर भारतीय रेल के नजरिए से भी 145 वर्षों का इतिहास लिए लोक एवं कैरिज कारखाना भी है। इन सब बातों के दृष्टिगत अतिमहत्वाकांक्षी व बहुप्रतीक्षित स्वदेशी तथा सेमी हाई स्पीड वंदे भारत ट्रेन की उक्त लाइनों पर महती आवश्यकता है।

चौधरी ने लिखा कि यह बड़े गर्व की बात है कि भारतीय रेलवे 15 अगस्त 2023 तक देश के विभिन्न रेलमार्गों पर 74 वंदे भारत ट्रेन चलाने जा रहा है लेकिन अजमेर से दिल्ली एवं मुंबई के मार्ग पर भी इसके संचालन की अविलंब स्वीकृति जारी करने की कृपा करें। चौधरी ने 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली इस ट्रेन की सफल संचालन के लिए भी सभी संबंधित पक्षों को अपनी ओर से बधाई व शुभकामनाएं दी है।