राजस्थान मंत्रालयिक कर्मचारी परिषद की बैठक में जॉब चार्ट पर चर्चा

अजमेर। राजस्थान मंत्रालयिक कर्मचारी परिषद की अजमेर शाखा की बैठक शुक्रवार शाम ईटी सेल में प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मण दास तुंगरिया की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।

जिला मंत्री मनोज वर्मा ने बताया की नवगठित जिला कार्यकारिणी सदस्यों के स्वागत के बाद बैठक की शुरुआत हुई। सभी सदस्यों ने एक स्वर में मांग रखी कि मंत्रालयिक कर्मचारियों के जॉब चार्ट बनाने के लिए सरकार को लिखा जाए तथा विभागीय वरिष्ठता निर्धारण में रही त्रुटियों को दुरुस्त किया जाए।

संभाग स्तर के कार्यालयों में कर्मचारी वेलफेर अधिकारी की नियुक्ति की जाए ताकि कर्मियों की सभी समस्याओं पर तुरंत सुनवाई हो सके। नव नियुक्त कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जाए साथ ही दो दिवसीय विभागीय कार्यशाला अगले माह आयोजित की जाएगी।

प्रदेश कार्यसमिति निर्णय अनुसार 19 मई को अजमेर का ज़िला मंत्रालयिक कर्मचारी अधिवेशन बुलाया जाएगा। सामाजिक हित के मुद्दों में सभी सदस्यों ने व्यसन मुक्ति की शपथ ली तथा कर्मचारियों में व्यसन करने वालों को इसे छोड़ने हेतु प्रेरित करने का अभियान चलाया जाएगा।

बाल विवाह की रोकथाम में संगठन सरकार का भरपूर सहयोग करेगा। आगामी आखातीज पर बाल विवाह होने वाले सम्भावित स्थानो की जानकारी ऊपर भेजी जाकर संगठन से जुड़े कोई पदाधिकारी ऐसे विवाह में शामिल नहीं होंगे।

बैठक में अजमेर, ब्यावर, किशनगढ, केकडी के सदस्यों ने भाग लिया। इनमें वर्धमान जैन, रमेश चंद धाभाई, मुकेश मुंदडा, नरेंद्र भाटिया, जय गोयल, मोहन राम, सुरेश देवानी, गजेंद्र सिंह राठौड़, रमेश सेन, विजय सिंह रावत, सोमेश भाटी, पुष्कर नारायण, सुरेश पामनानी, सत्यनारायण शर्मा, सुनिता यादव, कौशल्या चौधरी, दिनेश शर्मा, दीपक मंडोलिया, वंश प्रदीप सिंह, मिश्री लाल, नरेंद्र माथुर, शिवजी सिंह देवड़ा, मोहन भट्ट, मनोज कुमार वर्मा समेत बडी संख्या में सदसय मौजूद रहे।