मेडिकल परीक्षा में पिछड़े वर्ग को दिया जाये आरक्षण: अखिलेश

Akhilesh letter to Javdkar Reservation of Backward Class in Medical Examination
Akhilesh letter to Javdkar Reservation of Backward Class in Medical Examination

लखनऊ । समाजवादी पार्टी(सपा)अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर को पत्र लिखकर नीट की मेडिकल परीक्षा में पिछड़े वर्ग को आरक्षण का लाभ दिलाये जाने की मांग की है।

यादव ने शुक्रवार को यहां जारी बयान में कहा है कि देश में मेडिकल की एम.बी.बी.एस. की लगभग 25 हजार सीटों के लिए प्रतिवर्ष नेशनल इंट्रेंस इलिजीबिलिटी टेस्ट (नीट) द्वारा परीक्षा का आयोजन कराया जाता है। इस परीक्षा में प्राप्त किये गये अंकों के आधार पर वरीयता सूची बनायी जाती है। कुल सीटों में से 85 सीटें राज्य मेडिकल कालेजों के लिए रखी जाती हैं। इन सीटों में पिछड़े वर्ग को आरक्षण मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि 15 प्रतिशत सीटें केन्द्रीय मेडिकल कालेजों के लिए रखी जाती हैं। इन 15 प्रतिशत सीटों को दो हिस्सों में विभाजित किया जाता है। इन सीटों में, लगभग एक चौथाई सीटें केन्द्रीय मेडिकल कालेजों के लिए रहती हैं, तथा शेष तीन चौथाई सीटें राज्य सरकार द्वारा पोषित मेडिकल कालेजों के लिए रखी जाती हैं।

यादव ने कहा है कि जो एक चैथाई सीटें केन्द्र सरकार द्वारा पोषित मेडिकल कालेजों के लिए रखी जाती हैं, उनमें तो पिछड़े वर्ग को आरक्षण मिल रहा है। लेकिन तीन चाैथाई सीटें जो राज्य सरकार द्वारा पोषित मेडिकल कालेजों के लिए रहती हैं, उनमें पिछड़ें वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं मिल रहा है। इसकी वजह से हर साल करीब 700 सीटें, जो पिछड़ें वर्ग के लिए रहनी चाहिए थीं उन्हें नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने इस विषय पर गम्भीरता पूर्वक विचार करने तथा पिछड़े वर्ग को उनके आरक्षण का हक दिलाने की मांग की है।