अखिलेश अपने परिवार को नहीं संभाल पा रहे हैं, तो हमें कहां से संभालेंगे : ओमप्रकाश राजभर

जौनपुर। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि समाजवादी पार्टी गठबंधन टूट चुका है, अखिलेश यादव अपने चाचा शिवपाल और भाभी अपर्णा यादव तक को नहीं संभाल पाए। अखिलेश अगर अपने परिवार को नहीं संभाल पा रहे हैं तो हमें कहां से संभालेंगे, वो अपने सामने किसी की नहीं सुनते हैं।

राजभर ने रविवार को पार्टी के युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं की बैठक संबोधित करने के पूर्व पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अकेले कोई पार्टी सरकार नहीं बना सकती है, हमको भी कहीं न कहीं गठबंधन करना है। पार्टी नेताओं और विधायकों से राय लेंगे।

उन्होंने कहा कि कुछ पार्टी के नेताओं की राय और उनको व्यक्तिगत रूप से लगता है कि बसपा से बात करनी चाहिए। आज़मगढ़ उपचुनाव में बसपा ने अच्छा प्रदर्शन किया है, मायावती अखिलेश यादव से ज्यादा क्षेत्र में रहती हैं। चुनाव में अखिलेश यादव टिकट देने में भी पक्षपात करते थे। सुबह से लेकर शाम तक अलग-अलग लोगों को टिकट दिया करते थे।

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर संजय निषाद की तरफ से एनडीए में आने की बात पर ओमप्रकाश राजभर ने तीखा व्यंग कसा और कहा कि संजय निषाद भारतीय जनता पार्टी के मालिक नहीं है। राजभर ने कहा कि यूपी में एसी की राजनीति की हवा खराब हो गई है, एसी आराम करने के लिए बनाई गई थी, लेकिन यूपी में कुछ नेताओं को एसी की हवा रास आ गई है।

राजभर ने कहा कि मैंने अखिलेश से कहा था कि कुछ दिन नॉन एसी की हवा ली जाए लेकिन मेरी बात नहीं सुनी गई। अमित शाह और मायावती भी एसी में रहती हैं लेकिन वह अपने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करती रहती हैं। साल 2024 के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह बसपा से बात करने के मूड में हैं। उन्होंने कहा कि मुझे मुख्यमंत्री योगी ने फोन किया और राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू से मिलने के लिए बोला था, मैं उनसे मिलने चला गया, ये बात भी अखिलेश को नागवार लगी।

खुद को मिली वाई कैटगरी सुरक्षा के बारे में कहा कि मेरे ऊपर हमला हुआ था, नौ मुकदमे आजमगढ़ गाजीपुर लखनऊ में लिखे गए हैं, जो लोगों ने चुनाव के दौरान मेरे ऊपर हमला हमला किया था वो पकड़े गए तब से सुरक्षा मिली है।