इंग्लैंड पर फिर टूटा अक्षर और अश्विन का कहर

Akshar Patel and Ashwin were wreaked havoc on England again
Akshar Patel and Ashwin were wreaked havoc on England again

अहमदाबाद। इंग्लिश बल्लेबाजों के लिए सिरदर्द बन चुके लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने एक बार फिर घातक गेंदबाजी करते हुए यहां गुरुवार को चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के पहले दिन क्रमश: चार और तीन विकेट लेते हुए इग्लैंड को पहली पारी में 205 रन पर समेट दिया। भारत ने दिन का खेल समाप्त होने तक 12 ओवर में एक विकेट खोकर 24 रन बना लिए हैं। भारत पहली पारी में अभी 181 रन से पीछे है

अक्षर ने दूसरे टेस्ट की अपनी फॉर्म बरकरार रखते नरेंद्र मोदी स्टेडियम की पिच पर इंग्लिश बल्लेबाजों को एक बार फिर घुटने टेकने के लिए मजबूर कर दिया। पिछले मैच में 11 विकेट लेने वाले पटेल ने आखिरी टेस्ट में 26 ओवर में 68 रन पर चार विकेट, अश्विन ने 19.5 ओवर में 43 रन पर तीन विकेट,तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने 14 ओवर में 45 रन पर दो विकेट और पार्ट टाइम ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर ने सात ओवर में 14 रन देकर एक विकेट लिया। भारत ने स्टंप्स तक शुभमन गिल का विकेट गंवाया जिन्हे तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने पगबाधा किया। स्टंप्स के समय रोहित शर्मा आठ और चेतेश्वर पुजारा 15 रन बनाकर क्रीज पर हैं।

इंग्लैंड की तरफ से बेन स्टोक्स ने सर्वाधिक 55 और डेनियल लॉरेंस ने 46 रन बनाये। कप्तान जो रुट पांच रन बनाकरआउट हुए। इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत देने के मकसद से मैदान पर उतरे ओपनर जैक क्राली और डोमिनिक सिब्ले एक बार फिर अक्षर के आगे बेबस नजर आए। अक्षर का पहला शिकार सिब्ले बने जो दो रन पर ही अक्षर की गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद क्राली भी नौ रन के स्कोर पर चलते बने। अक्षर ने उन्हें मोहम्मद सिराज के हाथों कैच आउट कराया। इस तरह इंग्लैंड के शुरुआती दो विकेट क्रमश: 10 और 15 रन पर ही गिर गए।

गेंदबाजी के मोर्च पर अश्विन भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने मध्यक्रम के बल्लेबाज ओली पोप के रूप में अपना पहला शिकार किया जो बढ़िया खेलने के बावजूद 29 रन पर अश्विन की गेंद पर शुभमन गिल को कैच थमा बैठे। अश्विन का अगला निशाना विकेटकीपर बल्लेबाज बेन फोक्स बने जिन्हें अश्विन ने एक रन पर पवेलियन रवाना किया। इस तरह अक्षर और अश्विन ने मिलकर कुल सात विकेट निकाले।

इस बार तेज गेंदबाज माेहम्मद सिराज का भी सिक्का चमका। जाॅनी बेयरस्टो और कप्तान जो रुट के रूप में उन्होंने महत्वपूर्ण विकेट निकाले। सिराज ने दोनों को पगबाधा आउट किया। बेयरस्टो 28 और रुट मात्र पांच रन बना पाए और हताश पवेलियन लौट गए। पहले दिन के नजरिए से देखें तो सुंदर ने बेन स्टोक्स का सबसे महत्वपूर्ण चटकाया। पहली पारी में इंग्लैंड की तरफ से स्टोक्स सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। उनकी 55 रन की अर्धशतकीय पारी की बदौलत ही इंग्लैंड 200 के स्कोर तक पहुंच पाया। स्टोक्स ने 121 गेंदों की पारी में छह चौके और दो छक्के लगाए।

अक्षर और अश्विन की जोड़ी ने लगातार तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड की बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी। जहां अक्षर ने ओपनरों को अपने शिकंजे में कसा, वहीं अश्विन ने मध्यक्रम के दो महत्वपूर्ण बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया। इंग्लैंड का पहला विकेट 10 रन के स्कोर पर गिरा । अक्षर ने पहले दिन के छठे ओवर की दूसरी गेंद पर सिब्ले को बोल्ड कर दिया। इसके तुरंत बाद उन्होंने क्राली को कैच आउट कराया । इस तरह 15 रन पर इंग्लैंड ने अपना दूसरा विकेट गंवा दिया।

इसके बाद गेंदबाजी करने आए सिराज ने भी दमदार गेंदबाजी की और अनुभवी बल्लेबाजों बेयरस्टो और रुट का विकेट अपने नाम किया। बेयरस्टो और रुट के रूप में इंग्लैंड का क्रमश: तीसरा और चौथा विकेट गिरा। फिर स्टोक्स और पोप ने जिम्मेदारी संभाली और क्रीज पर पैर जमाए। दोनों के बीच पांचवें विकेट के लिए 43 रन की साझेदारी हुई, लेकिन युवा गेंदबाज सुंदर ने स्टोक्स को पगबाधा आउट कर इस साझेदारी को तोड़ दिया। इस तरह 121 रन पर इंग्लैंड का पांचवा विकेट गिरा।

इसके बाद बल्लेबाजी करने आए डैनियल लॉरेंस भी अच्छे फॉर्म दिखे और उन्होंने भी पोप के साथ 45 रन की साझेदारी की। इस बीच अश्विन ने पोप को आउट कर साझेदारी और इंग्लैंड की उम्मीद दोनों को तोड़ दिया। लॉरेंस भी ज्यादा देर तक नहीं टिक पाए और अक्षर की गेंद पर विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों स्टंप आउट हो गए। 170 रन पर यह इंग्लैंड का सातवां विकेट था।

इसके बाद अक्षर और अश्विन ने 35 रन के अंदर तीन विकेट गिरा कर इंग्लैंड को 205 रन पर ऑलआउट कर दिया। विकेटकीपर बेन फोक्स एक, डोम बेस तीन और जैक लीच तीन रन बना कर आउट हो गए। तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन 10 रन बना कर नाबाद रहे।