मनपसंद ठेकेदारों को ठेके की शिकायत, एसीबी का पिण्डवाड़ा नगर पालिका में निरीक्षण

acb, sirohi, pindwada
acb inspection in pindwada muncipality of sirohi

सबगुरु न्यूज-सिरोही/पिण्डवाड़ा। पिण्डवाड़ा नगर पालिका में मनपसंद ठेकेदारों को टेंडर देने की शिकायत पर एसीबी सिरोही ने गुरुवार को वहां से चार पत्रावलियां जब्त की। देर रात तक इन पत्रावलियों को लेकर संबंधित सभी पक्षों से पूछताछ की जा रही है।

सिरोही एसीबी के प्रभारी जितेन्द्रसिंह मेडतिया ने बताया कि उन्हें इस बात की शिकायत मिली थी कि पिण्डवाड़ा नगर पालिका में टेंडर में मनपसंद ठेकेदारों को तरजीह देकर उन्हें ही काम दिया जा रहा है। इस पर गुरुवार सवेरे नगर पालिका पहुंचकर विकास कार्यों की चार पत्रावलियों को जब्त किया गया। इसकी जांच जारी है।

इसके लिए संबंधित सभी पक्षों को बुलवाकर पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि शिकायतकर्ता ने बताया था कि टेंडर बहुत कम समय के लिए डिस्प्ले होता है और टेक्नीकल बीड में टेंडर को पास करके फाइनेंशल बीड में बाहर कर दिया जाता है। उन्होंने बताया कि सभी टेंडर्स के वर्कआॅर्डर जारी कर दिए गए हैं। यह नाली, सडक आदि के टेंडर हैं।
-अधिकांश नगर पालिकाओं में ये हालात
मनपसंद ठेकेदारों को टेंडर दिए जाने की शिकायत सिर्फ पिण्डवाडा नगर पालिका की हो ऐसा नहीं है। सिरोही जिले के शेष निकायों में भी इस तरह की शिकायतें समय-समय पर आती रही है। सिरोही में स्टोर और विकास के कामों में इसी तरह की शिकायतें समय-समय पर सामने आती रही हैं। ये बात अलग है कि यहां के ठेकेदार इसकी शिकायत एसीबी में किए जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाए हों।
-एक शिकायत ये भी
नगर निकायों में अधिकांश टेंडर आॅनलाइन कर दिए गए हैं। इन टेंडर्स में इस तरह की सेटिंग की जाती है कि इसे अपलोड किए जाने की सूचना संबंधित निकायों को दी जाती है। निकाय के संबंधित अधिकारी इसकी सूचना पसंदीदा ठेकेदारों को देते हैं।

ठेकेदार इस टेंडर को डाउनलोड करने की सूचना फिर संबंधित अधिकारियों को देते हैं और संबंधित अधिकारियों द्वारा यह सूचना मुख्यालय पहुंचती है और इसके बाद टेंडर का साइट पर से डिस्प्ले हटा लिया जाता है। आॅनलाइन टेंडर होने के बाद भी टेंडर काॅपी दिए जाने में ठेकेदारों को आ रही समस्या सबसे बडी है।