मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ने के लिए हैं तैयार बीएस येदियुरप्पा

बेंगलूरू। कर्नाटक में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर विराम लगाने की कोशिशों के तहत मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने रविवार को घोषणा की कि वह अपना पद त्यागने और अन्य के लिए सत्ता संभालने का मार्ग प्रशस्त करने के लिए तैयार हैं।

कुछ पार्टी नेताओं और एक मंत्रिमंडलीय सदस्य द्वारा कथित तौर पर अपनी कार्यशैली को लेकर दिये गये बयानों से खफा येदियुरप्पा ने यहां संवाददाताओं से कहा कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की इच्छा हो तो मैं अपने पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हूं। उन्होंने हालांकि इस बात से इंकार किया कि उनके लिए कोई विकल्प नहीं है और कहा कि पार्टी के केंद्रीय नेताओं ने उन्हें राज्य में विभिन्न जिम्मेदारियों को निभाने का पर्याप्त अवसर दिया है।

उन्हाेंने कहा कि कई नेता हैं जो राज्य की कमान संभाल सकते हैं। राज्य सरकार के कामकाज की खुले तौर पर आलोचना करने वाले पार्टी के कुछ नेताओं पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि पार्टी का शीर्ष नेतृत्व इस तरह के कृत्यों को समाप्त करने के लिए कदम उठाएगा।

उल्लेखनीय है कि राज्य के परिवहन मंत्री सीपी योगीश्वर ने सार्वजनिक तौर पर अपने बयान में कहा था कि प्रदेश में भाजपा सरकार नहीं है, बल्कि ‘तीन पार्टियों की समझ वाली सरकार’ है। पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं भाजपा विधायक बासवनगौड़ा पाटिल यतनाल ने भी मुख्यमंत्री को अपना इस्तीफा देने की सलाह दी थी। बासवनगौड़ा येदियुरप्पा के पुत्र एवं पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष बी वाई विजयेंद्र के खिलाफ हमेशा मुखर रहे हैं।