अलवर में व्यापारी हत्या मामले में सरकार को कटघरे में खड़ा किया

ramgarh MLA gyandev ahuja
ramgarh MLA gyandev ahuja

अलवर। राजस्थान में अलवर के खैरथल में बदमाशों द्वारा गोली मारकर किराना व्यापारी की हत्या के मामले में रामगढ़ विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने बिगड़ती कानून व्यवस्था पर राज्य सरकार को कटघरे में खड़ा किया है।

आहूजा ने शनिवार को कहा कि सरकार अपराध रोकने में नाकामयाब रही है तथा अलवर में आए दिन हत्या,लूट और बलात्कार जैसे संघीन अपराध हो रहे है लेकिन पुलिस और सरकार खामोश बैठी है।

विधायक सुबह मृतक व्यापारी के शव का पोस्टमार्टम करते समय अलवर के सामान्य अस्पताल में आये और घटना की जानकारी ली। बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि अलवर जिला उत्तर प्रदेश व हरियाणा से लगता हुआ है तथा मेवात इलाका होने के कारण यहां अपराध बढ़ते जा रहे है।

उन्होंने कहा कि जिले मेें बढ़ते अपराधों को देखते हुए यहां दो पुलिस अधीक्षकों की मांग चालीस साल से की जा रही है। लेकिन अभी तक सरकार ने इस पर कोई निर्णय नहीं लिया है। उन्होंने कहा कि सत्ता में होने के बावजूद ये स्वीकार करने में कोई दिक्कत नहीं की राजस्थान में कानून व्यवस्था बिगड़ती जा रही है।

उन्होंने अलवर की कानून व्यवस्था को लेकर गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया से भी बात की है। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं की पुनरावर्ती नहीं होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि सरकार अपराध रोकने में हर मोर्चे पर विफल रही है। उन्होंने कहा कि अलवर में चार हत्या कांड ऐसे हुए जो संदेह के घेरे में है। उन्होंने व्यापारी सुरेश गुप्ता हत्या मामले की जांच पर कहा कि इस मामले में पुलिस मुख्य आरोपियों तक पहुंच ही नहीं पाई। इसमें पुलिस की भूमिका संदिग्ध रही है।