गंभीर रूप से बीमार अमर सिंह ने अपने मित्र अमिताभ बच्चन से मांगी क्षमा

Amar Singh regrets Amitabh and his family

नई दिल्ली। अभी लगभग एक दशक पहले तक समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता रहे अमर सिंह और हिंदी सिनेमा के सुपर स्टार अमिताभ बच्चन की तगड़ी दोस्ती हुआ करती थी। मंगलवार को यानी आज एक लंबे समय के बाद अमर सिंह ने एक भावुक ट्वीट में अपनी पुरानी टिप्पणी पर सुपरस्टार और अपने मित्र अमिताभ बच्चन से क्षमा मांगी है। आपको बता दें कि अमर सिंह पिछले कई दिनों से अपनी किडनी संबंधित समस्या से इन दिनों सिंगापुर में अपना इलाज करा रहे हैं उन्होंने वहीं से अमिताभ के लिए एक ट्वीट किया है। इस समय अमर सिंह गंभीर रूप से बीमार बताया जा रहे हैं।

आज जीवन के इस वक्त में जब मैं जिंदगी और मौत से लड़ रहा हूं, मैं अमित जी और पूरे परिवार से अपनी टिप्पणियों को लेकर माफी मांगना चाहता हूं। ईश्वर उन सभी पर अपना आशीर्वाद बनाए रखे। गौरतलब है कि अमर सिंह ने लगभग 4 वर्ष पहले जया बच्चन, अमिताभ बच्चन को लेकर टिप्पणी की थी कि यह दोनों मुंबई में अलग-अलग बंगलों में रह रहे हैं । इस बयान के बाद अमिताभ बच्चन और जया बच्चन अमर सिंह के बीच दूरी बढ़ गई थी।

अमर सिंह को आज अमिताभ बच्चन का एक मैसेज मिला था

समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता रहे अमर सिंह के पिताजी की आज पुण्यतिथि के मौके पर सुपरस्टार अमिताभ बच्चन का एक मैसेज अमर सिंह के पास आया था। अमिताभ के द्वारा भेजे गए मैसेज के बाद अमर सिंह ने भी आज पुरानी गलती और अमिताभ पर की गई अभद्र टिप्पणी पर क्षमा मांगी है। कभी बच्चन परिवार के बेहद करीबी रहे अमर सिंह ने कहा, ‘आज के दिन मेरे पूज्य पिताजी का स्वर्गवास हुआ था।

इस तारीख को पिछले एक दशक से लगातार अमिताभ बच्चन संदेश भेजते हैं। जब दो व्यक्तियों में बहुत स्नेह होता है और उसमें कुछ कम या अधिक अपेक्षाएं या उपेक्षाएं होती हैं। उन संबंधों में बहुत उबाल आता है और बहुत उग्र प्रतिक्रियाएं होती हैं। संबंध जितना अधिक निकट होता है, उसकी टूट की चुभन भी उतनी अधिक नुकीली होती है।

अमिताभ बच्चन ने मेरा जिंदगी में बहुत साथ दिया है : अमर सिंह

सिंगापुर में अपनी किडनी का इलाज करा रहे अमर सिंह ने आज कहा है कि अमिताभ बच्चन ने मेरा जिंदगी में हर मोड़ पर बहुत साथ दिया था इसको मैं कभी भुला नहीं सकता हूं। पिछले 10 सालों में मैं बच्चन परिवार से न सिर्फ अलग रहा, बल्कि यह भी प्रयत्न किया कि उनके दिल में मेरे लिए नफरत हो लेकिन आज अमिताभ बच्चन जी ने मेरे पिताजी का सुमिरन किया तो मुझे ऐसा लगा कि इसी सिंगापुर में 10 साल पहले गुर्दे की बीमारी के लिए मैं और अमित जी लगभग दो महीने तक साथ रहे। इसके बाद हमारा और उनका साथ छूट सा गया, लेकिन 10 वर्ष बीत जाने पर भी उनकी निरंतरता में कोई बाधा नहीं आई। वह लगातार अनेक अवसरों पर चाहे मेरा जन्मदिवस हो या फिर पिताजी के स्वर्गवास का दिन हो, हर दिन को स्मरण करके अपने कर्तव्य का निर्वहन करते रहे हैं।

अमर सिंह इन दिनों सिंगापुर में करा रहे हैं अपना इलाज

गंभीर रूप से बीमार अमर सिंह ने कहा कि वह जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं और जीवन के इस मोड़ पर अमिताभ से माफी मांगते हैं। उन्होंने एक विडियो संदेश और साथ ही ट्वीट के जरिए अमिताभ के नाम यह माफीनामा जारी किया। मुझे लगता है कि सार्वजनिक रूप से मुझे और कोई कारण नहीं कि इस कारण कि हमसे उम्र में वह बड़े हैं, उनके प्रति नरमी रखनी चाहिए थी और जो कटु वचन मैंने बोला है, उसके लिए खेद भी प्रकट कर देना चाहिए, क्योंकि मेरे मन में कटुता और नफरत से ज्यादा उनके व्यवहार के प्रति निराशा रही।

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार