एलीफेंटा के तीन गांव बिजली से हुए रोशन : पीएम मोदी

Amazing! How electricity reached Elephanta Caves 70 years after Independence
Amazing! How electricity reached Elephanta Caves 70 years after Independence

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह हैरानी की बात है कि मुंबई के नजदीक बसे पर्यटन महत्व के एलीफेंटा द्वीप के तीन गांवों में हाल में पहली बार बिजली पहुंची और इसको लेकर गांव के लोग खुशियों से झूम रहे हैं और उत्सव मनाया जा रहा है।

मोदी ने रेडियो पर प्रसारित अपने मासिक कार्यक्रम ‘मन की बात’ के 41वें संस्करण में कहा कि आजादी के 70 वर्ष बाद मुंबई से महज दस किलोमीटर पर स्थित एलीफेंटा द्वीप के तीन गांव में पहली बार बिजली पहुंचने की खबर से वह हैरान हैं।

उन्होंने कहा कि मुझे यह बात जानकर हैरानी हुई कि मुम्बई के पास होने और पर्यटन का बड़ा केंद्र होने के बावजूद, आज़ादी के इतने वर्षों तक एलीफेंटा में बिजली नहीं पहुंची। एलीफेंटा द्वीप के तीन गाँव राजबंदर, मोरबंदर और सेंतबंदर गांव के लोगों की ज़िन्दगी में जो अंधेरा छाया था, अब 70 वर्ष बाद वह अँधेरा छँटा है और उनका जीवन रोशन हुआ है।

उन्होंने कहा कि अब एलीफेंटा के गांव और एलीफेंटा की ऐतिहासिक गुफाएं बिजली से रोशन होंगे। यह सिर्फ़ बिजली नहीं बल्कि विकास के दौर की एक नयी शुरुआत है। देशवासियो का जीवन रोशन हो, उनके जीवन में खुशियाँ आएँ इससे बढकर संतोष और ख़ुशी का पल क्या हो सकता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐलीफेंटा द्वीप के इन तीनों गांवों के रोशन होने से वहां के लोगों में खुशी, हर्ष और उल्लास है लेकिन आश्चर्य इस बात का है कि यह द्वीप मुंबई से समुद्र में दस किलोमीटर दूर है। यह पर्यटन का एक बहुत बड़ा और आकर्षक केंद्र है।

उन्होंने कहा कि एलीफेंटा की गुफाएं यूनेस्को के विश्व धरोहर की सूची में शामिल हैं। वहां हर दिन देश-विदेश से बहुत बड़ी संख्या में पर्यटक जाते हैं। यह एक महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल है और उन्हें उम्मीद है कि वहां बिजली पहुंचने से पर्यटक और आकर्षित होंगे।