अम्बेडकर भवन शिलान्यास: बडी मुश्किल से इकट्ठे किए लोग, भाषण में वो भी चले गए

ambedekar bhavan, sirohi, otaram dewasi, devji patel
foundation stone ceremony of ambadkar bhavan in sirohi

सबगुरु न्यूज-सिरोही/पिण्डवाड़ा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के कामों को लेकर आमजन और स्वयं भाजपा संगठन के उत्साह को शनिवार को अम्बेडकर भवन के शिलान्यास समारोह में फिर ठंडा ही पाया गया। गोयली चौराहे पर आयोजित इस कार्यक्रम में बडी ही मुश्किल से कुर्सियां भरने के लिए लोगों को एकत्रित किया गया। वो भी भाषण खतम होते होते पांडाल छोडकर फिर कुर्सियां खाली छोड गए। पिण्डवाड़ा की स्थिति तो और शर्मनाक रही। वहां तो उद्घाटन करने वाले नेताओं के अलावा गिने चुने ही लोग दिखे। कुर्सियां खाली ही रही।

मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के तहत सिरोही जिले में भी करीब 67 लाख रुपये की लागत से अम्बेडकर भवन बनाया जा रहा है। सिरोही में इसका उद्घाटन एवं शिलान्यास सवेरे दस बजे किया जाना था, लेकिन पांडाल में लोगों के नहीं आने और कुर्सियां खाली रहने से यह 11.30 बजे शुरू हो पाया। जैसे तैसे गांधी पार्क में सफाई कार्य में लगे नगर परिषद के सफाई कार्मिकों तथा समाज कल्याण छात्रावास के बच्चों को बुलवाकर कुर्सियां भरी गई।

स्थिति यह थी कि कुर्सियों से भरे एक टैम्पो को तो लौटाना पडा। कार्यक्रम में भाजपा जिला व ब्लाॅक संगठन समेत जनप्रतिनिधियों की भी पूरी उपस्थिति नहंी रही। जो मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के प्रति लोगों के उत्साहहीनता को प्रदर्शित कर रहा था। पांडाल खाली नहीं होने से कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ओटाराम देवासी सर्किट हाउस में ही रहे। उनके साथ सांसद देवजी पटेल, भाजपा जिलाध्यक्ष लुम्बाराम चैधरी और अन्य नेता भी यहीं जमे रहे।

नगर परिषद के पार्षदों की भी पूरी संख्या यहां पर नजर नहीं आई। स्थिति यह थी कि जिला कलक्टर संदेश नायक को भी यहां पहुंचकर 12 मिनट तक पेड के नीचे खडे होकर इन लोगों का इंतजार करना पडा। हां, सभापति तारामराम माली, वार्ड पार्षद के प्रतिनिधि विरेन्द्र सिंह चैहान, जिला उपाध्यक्ष अशोक पुरोहित, नगर अध्यक्ष सुरेश सगरवंशी, हेमलता पुरोहित, दमयंती डाबी, नारायण देवासी आदि पहले ही यहां पर आकर कार्यक्रम की तैयारियों व कुर्सियां भरने की कोशिश लगे थे।

राज्यमंत्री देवासी और सांसद के पहुंचने पर इन लोगों ने सबसे पहले ईईएसएल की सब्सिडाइज एलईडी वितरण कार्यक्रम की वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसके बाद अम्बेडकर भवन का शिलान्यास किया।

Pindwada, ambedka
Ambedkar bhavan foundation stone lying function in pindwada and empty chairs

पिण्डवाड़ा नगर पालिका की ओर से आयोजित कार्यक्रम की स्थिति तो और बुरी रही। वहां पर निर्धारित समय के बाद भी लोग नहीं पहुंचे। विधायक समाराम गरासिया और कुछ नेताओं ने शिलान्यास तो कर लिया। लेकिन उनकी बातों को सुनने के लिए श्रोताओं की व्यवस्था नहीं हो पाई।

sirohi, otaram dewasi, ambedkar bhavan
empty chairs during foundation stone ceremony of ambedkar bhavan in sirohi

-भाषण खतम होने से पहले खाली हो गई कुर्सियां
कार्यक्रम में सांसद देवजी पटेल, तारा भंडारी, सुरेश सगरवंशी ेने अपने भाषण में डाॅ अम्बेडकर की जीवनी बताई। विरेन्द्रसिंह चैहान ने अपने भाषण में सभापति ताराराम माली के इतने कशीदे पढे कि वह किसी विकास पुरुष से कम नजर नहीं आए।

उन्होंने सभापति को सिरोही का प्रतिनिधित्व विधानसभा में करने की महत्वाकांक्षा को भी पल्लवित करने की कसर नहीं छोडी। भाषण कार्यक्रम से बोझिल लोग धीरे-धीरे अपनी कुर्सियां छोडने लगे। ओटाराम देवासी और सभापति ताराराम माली का नम्बर आने तक तो आधे से ज्यादा लोग पांडाल छोडकर जा चुके थे।

Bjp leaders stand infromnt of van during flag waiving in sirohi

-झंडी दिखाने का नया तरीका
फोटो खिंचवाने का ऐसा क्रेज किसी वाहन को हरी झंडी दिखाने के समय शायद ही किसी ने देखा हो जो शनिवार को यहां देखने को मिला। ईईएसएल के वाहन को इन लोगों ने हरी झंडी दिखाई। आम तौर पर हरी झंडी दिखाते ही वाहन को रवाना किया जाता है, लेकिन यहां पर फोटो खिंचवाने के उत्सहा में भाजपाई नेता वाहन के सामने ही खडे हो गए और झंडी हिलाते रहे।

यह देखकर कुछ लोग तो यह भी चुटकी लेने लगे कि अच्छा है कि इन्हें रेलवे में नहीं लगाया वर्ना ऐसे हरी झंडी दिखाते तो आधी भाजपा को ट्रेन ही ले उडती। भाजपाइयों के फोटो खिंचवाने के टशन को शायद जिला कलक्टर भी समझ चुके हैं, ऐसे में वे अधिकांश कार्यक्रमों में अब फोटो खिंचवाने के दौरान इस होडाहोडी से किनारे होते नजर आ रहे हैं। एक और महत्वपूर्ण बात जिसकी सबसे ज्यादा चर्चा थी वो थी मंच के पीछे के बैनर से नदारद प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की तस्वीर।

sirohi, ambedkar bhavan
children from avoiding class of society again avoided during foundation stone lying ceremony of ambedkar bhavan in sirohi

-दूर दरियों पर बैठे निहारते रहे दलित बच्चे
कुर्सियों को भरने के लिए नगर पालिका के कार्मिकों को श्रोता उधार के लाने पडे। कार्यक्रम स्थल के चारों ओर ही झोपडियां थीं। जो बाबा साहब इन झुग्गियों में बसे लोगों के लिए संघर्ष करते रहे उन्हीं के कार्यक्रम में आयोजकों ने इन झुग्गियों के बच्चों और लोगों को बैठाने को प्राथमिकता नहीं दी। इन झुग्गी वालों को ही बुलवा लेते तो न कार्यक्रम में देरी होती और डाॅ अम्बेडकर के नाम से शुरू योजना भी सही लोगों तक पहुंच जाती।

अम्बेडकर के आदर्शो को जीवन में अपनाएं: देवासी

गोपालन राज्यमंत्री ओटाराम देवासी ने कहा कि डाॅ. भीमराव अम्बेडकर ने समरता एवं समानता के आदर्श को हम जीवन में अपनाएं और अपने आचरण एवं संस्कारों में उनके सिद्धातों एवं कार्यो को स्थान देंवे। वे आज 127 वीं बाबा साहेब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर की जयन्ती के उपलक्ष्य में आयोजित अम्बेडकर भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में आमजन को सम्बोधित कर रहें थे।

उन्होंने वहां उपस्थित जनों से अम्बेडकर के जीवन मूल्यों को जीवन में उतार कर अपने व्यक्तित्व का विकास करने का आव्हान किया। उन्होंने कहा कि हमें बाबा साहेब के बताए रास्ते पर चलना होगा तथा जातिवाद, छूआछूत का भेदभाव किए बिना अपने देश को विकास की ओर उत्तरोत्तर अग्रसर करना है।

उन्होंने कहा कि बाबा साहेब ने हमारे देश को अनूठा संविधान प्रदान किया है जो हमारे देश को एकता के सूत्र में बाधे हुए है तथा हमारा देश चहुमुखी प्रगति कर रहा है। उन्होंने सिरोही शहर के विकास की जानकारी दी तथा उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री महोदया के बजट घोषणा वर्ष 2018-19 में सभी नगरीय निकायों क्षेत्रों में सउकों एवं अन्य आधारभूत संरचनाओं के सुदृढीकरण के अन्तर्गत अम्बेडकर भवनों के निर्माण, कार्य के लिए राशि 1000.00 करोड के प्रावधान की घोषणा की है।

उक्त कार्य के लिए नगर निकायों को निम्नानुसार राशि रूपए 67 लाख का आवंटन किया गया है। सांसद देवजी एम पटेल ने कहा कि बाबा साहेब सामाजिक समरसता के प्रेरणा स्त्रोत है और समाज में समान अधिकार के लिए जीवन समर्पित किया और कमजोर वर्ग के उत्थान के लिए जीवन पर्यन्ट सघर्ष किया।

उन्होंने बाबा साहेब द्धारा बनाए गए संविधान की पालना करने एवं उनकी जीवनी से प्रेरणा लेने का संकल्प लेने व उनके द्धारा बनाए रास्तों पर चलने की अपील की और समृद्ध देश के निर्माण में अपनी भागीदारी निभाने को कहा। उन्होंने बताया कि अम्बेडकर भवन के निर्माण से कई कार्य यहां पर सम्पन्न किए जा सकेंगे और आमजन के लिए यह बहुत ही उपयोगी सिद्ध होंगे।

जिला कलक्टर संदेश नायक ने कहा कि यह बहुउद्देश्य भवन निर्माण किया जा रहा है , इस भवन निर्माण के लिए कई दिनों से मांग रखी जा रही थी, आज इसके शिलान्यास हो जाने से यह सपना साकार हो रहा है। उन्होंने बताया कि यह भवन मैन सडक पर बनने से बहुत ही उपयोगी होगा , इसके साथ ही जिले की अन्य नगर निकायों पर भी इन अम्बेडकर भवनों का शिलान्यास आज हुआ है। उन्होंने जिले में हो रहें नवाचारों, विकास के कार्यो की भी जानकारी दी।

भाजपा जिलाध्यक्ष लुम्बाराम चौधरी, पूर्व विधायक श्रीमती तारा भंडारी, विरेन्द्र सिंह चैहान, सुरेश सरगवंशी इन सभी ने बाबा साहेब के व्यक्तित्व , कृतित्व पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने अपने समस्त जीवन समग्र भारत के कल्याण के लिए लगाया और बाबा साहेब को आधुनिक भारत निर्माता कहा जाता है क्योकि देश के सामाजिक , राजनैतिक, आर्थिक, सांस्कृतिक, शिक्षा, कानून, आदि क्षेत्रों में उनका अतुल्यनिय योगदान रहा है।

सभापति ताराराम माली ने कहा कि भारत के सबसे महान समाज सुधारक , सबसे महान विधिवेत्ता के तौर पर बाबा साहेब का नाम सबसे आगे है। उन्होंने बाबा साहेब के सरल , परिश्रमी, संघर्षशील एवं उच्च आदर्श को अपने जीवन में अपनाने की बात कही।

उन्होंने नगर परिषद क्षेत्र में हो रहें विकास कार्येा की भी जानकारी दी तथा उन्हांेंने अम्बेडकर भवन निर्माण कार्य की जानकारी देते हुए बताया कि समस्त नगरीय निकायों में अम्बेडकर भवन निर्माण करवाने के लिए समस्त आवश्यक सुविधाओं से युक्त नगरपालिकाओं में कम से कम 500 वर्ग मीटर, नगर परिषदों में कम से कम 750 वर्ग मीटर के भू खंड ( अनुमानित क्षेत्रफल) 62 फीट गुणा 123 फुट में नगर निकाय के स्वंय के स्वामित्व की भूमि का चिन्हीकरण कर साईट प्लान तैयार किया गया है।

इस अम्बेडकर भवन में एक बडा हाॅल, 2 कमरें, पुरूष व महिलाओं के लिए अलग-अलग शौचालय व स्नानागार, रसोई घर, स्टोर रूम मय कार्यालय , वाहन पार्किग, वृक्षारोपण व पार्क , वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम , चार दीवारी इत्यादी का निर्माण करवाया जाना है। इस अम्बेडकर भवनों के निर्माण के लिए क्षेत्रफल के अनुसार ड्र्ाईग व तकमीना तैयार किया गया है।

इन भवनों के निर्माण होने से बहुउपयोगी होगा तथा सामाजिक कार्यक्रमों के साथ-साथ अन्य कई कार्यक्रमों के लिए यह काम लिया जा सकेगा। इस मौके पर भूबाराम माली, उप सभापति धनपतसिंह, मगन मीणा, आयुक्त प्रहलाद सहाय वर्मा, पार्षद गण एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के छात्रावासों में अध्ययनरत छात्रों ने भाग लिया।

देखें विडियो…