अमेठी अाना मेरे लिए एक तीर्थ के समान : स्मृति ईरानी

Smriti Irani Inaugurates 'Digital Village' In Rahul Gandhi's Amethi
Smriti Irani Inaugurates ‘Digital Village’ In Rahul Gandhi’s Amethi

अमेठी। कपड़ा मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने कहा कि अमेठी मेरा मन्दिर है और यहां आना एक तीर्थ आने के समान है। ईरानी ने शनिवार को अमेठी के मुसाफिरखाना स्थित पिंडारा ठाकुर गांव में कॉमन सर्विस सेंटर का उद्घाटन करते हुए कहा कि मेरे लिए अमेठी ही धाम और मंदिर है। यहां की जनता मेरे लिए भगवान है।

आप लोगों की मैं ऋणी हूं कि अपने बीच आकर सेवा करने का मौका प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि साढे चार साल से तो अमेठी ही मेरा धाम और मेरा मंदिर है इसलिए अमेठी मेरे लिए तीर्थ स्थान से कम नहीं है। यहां के लोग मेरे लिए देवता तुल्य हैं। उन्होंने पिंडारा ठाकुर गांव डिजिटल विलेज का शुभारंभ करने के बाद अमेठी के प्रधान डाकघर में आईबीपीवी यानी भारतीय पोस्ट पेमेंट बैंक की सेवा शुरु की।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि आने वाले समय में जिले की प्रत्येक ग्राम पंचायतों को डिजिटल इंडिया के तहत डिजिटलाइज कर दिया जाएगा। उन्होने अप्रत्यक्ष रूप से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुये कहा कि विदेशी व्यक्तियों को अमेठी लाकर हंसी का पात्र बनाया गया।

अब जिस किसी को भी लाना है ले आएं और दिखाएं की अमेठी का गांव डिजिटल हो गया है। हम सबको अपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देना चाहिए। अमेठी देश का पहला जिला है जहां के सभी ब्लॉक में महिला स्वाभिमान के लिए योजना चल रही है।

उन्होने कहा कि अमेठी में पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों के घरों तक अपनी पहुंच बनायी है। प्रत्येक ग्राम पंचायत तक 15 सितम्बर तक कामन सर्विस सेंटर की सुविधा से जुड़ जायेगी। इस साल के अंत तक केन्द्र सरकार की ओर से सभी ग्राम पंचायतों में वाई-फाई चौपाल की व्यवस्था की जाएगी।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि कॉमन सर्विस सेंटर से जनता को बहुत लाभ मिलता है। पहले पासपोर्ट बनवाने के लिए अफसरों के सामने खड़ा रहना पड़ता था। अब आपको गांव के सीएससी तक ही जाना होगा।

सीएससी के माध्यम से अमेठी जिले में हर गांव के हर घर में एक व्यक्ति को कम्प्यूटर में शिक्षित किया जाएगा। नरेंद्र मोदी के चलते आज सीएससी के माध्यम से 35 गांवों में वाई फाई की व्यवस्था कर दी गई है। इस साल के अंत तक हर ग्राम पंचायत में वाई फाई की व्यवस्था हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि 15 सितंबर से 685 पंचायतों को सीएससी की सुविधा उपलब्ध हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में हमने जो कहा था, आज फिर कह रहे है कि दिल्ली में हम उस व्यक्ति को फिर प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठे देखना चाहते है। इस सेवा के माध्यम से लोगों को खाता खुलवाने के लिए किसी प्रकार की कागजी कार्रवाई पूरी नहीं करनी पड़ेगी और अंगूठे के निशान से पैसा जमा और निकासी होगी।