अमित शाह और राहुल गांधी उत्तर प्रदेश में बितायेंगे अगले दो दिन

अमित शाह और राहुल गांधी उत्तर प्रदेश में बितायेंगे अगले दो दिन
अमित शाह और राहुल गांधी उत्तर प्रदेश में बितायेंगे अगले दो दिन

लखनऊ । अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस ने सीटों के लिहाज से अति महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में अपनी तैयारियों को धार देनी शुरू कर दी है।

संतकबीर नगर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के चुनावी बिगुल बजाने के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार अौर गुरूवार उत्तर प्रदेश में रह कर अपने अपने दलों की चुनावी रणनीति को धार देंगे। श्री शाह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के अलावा मिर्जापुर और आगरा का दौरा कर लोगों के मूड को परखेंगे वहीं श्री गांधी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में रूक कर कार्यकर्ताओं का मनोबल बढायेंगे।

वर्ष 2009 के आमचुनाव में कांग्रेस ने कार्यकर्ताओं की बदौलत अमेठी और रायबरेली के अलाव प्रतापगढ,फैजाबाद, बहराइच,गोंडा,बाराबंकी,उन्नाव, कुशीनगर,कानपुर,अकबरपुर,डुमरियागंज,श्रावस्ती,महराजगंज और धनौरा में जीत हासिल की थी।

कांग्रेस के विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह ने मंगलवार को कहा कि श्री गांधी को दो दिवसीय अमेठी का दौरा चार जुलाई को शुरू होगा। इस दौरान वह पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलेंगे और कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष उस मुस्लिम किसान के परिवार से भी मिलेंगे जो अपने उत्पाद की बिक्री के लिये चार दिन सरकारी खरीद केन्द्र में अपनी बारी का इंतजार करता रहा और आखिरकार उसकी मृत्यु हो गयी थी।

सिंह ने कहा कि किसानो की मृत्यु सरकार की अन्नदाताओं के प्रति बेरूखी का जीता जागता सबूत है। किसान अपनी फसल की बिक्री के लिये चार दिनों तक इंतजार करता रहा और उसने दम तोड दिया। इसके बाद भी भाजपा का कोई नेता उसके घर संवेदना प्रकट करने नही गया।

कांग्रेस अध्यक्ष चार तारीख को ही तिलोई विधानसभा क्षेत्र के फुर्सतगंज में विकास योजनाओ का जायजा लेंगे। शाम को वह गौरीगंज में छोटे व्यापारियों के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात करेंगे और रात गौरीगंज में पार्टी कार्यालय में गुजारेंगे। अगले दिन यानी पांच जुलाई को स्थानीय सांसद अमेठी गौरीगंज मार्ग पर स्थित ताला गांव के किसानो से मिलेंगे और उनकी समस्यायों से रूबरू होंगे।

इस बीच भाजपा सूत्रों ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के वाराणसी,मिर्जापुर और आगरा के दौरो की पुष्टि कर दी है। श्री शाह कल सुबह मिर्जापुर पहुंचेगे अौर काशी,गोरखपुर और अवध क्षेत्र के लोकसभा प्रभारियों के संग बैठक कर जनता की नब्ज टटोलेंगे।

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि शाम को श्री शाह वाराणसी जायेंगे जहां वे पार्टी के आईटी प्रकोष्ठ की एक बैठक में सोशल मीडिया कार्यकर्ताओं को संबोधित करेेंगे अौर उन्हे पार्टी को जिताने का मंत्र देंगे। उन्होने कहा कि सोशल मीडिया में सक्रिय रहने वाला कोई भी व्यक्ति इस बैठक में शिरकत कर सकता है हालांकि इसके लिये पहले से पंजीकरण कराना जरूरी होगा।

भाजपा के आईटी प्रकोष्ठ के मुखिया संजय राय ने बताया कि सोशल मीडिया के इस्तेमाल से पार्टी विपक्ष के दुष्प्रचार का मुंहतोड जवाब देने को तैयार है।

पांच जुलाई को शाह आगरा जायेंगे जहां वे बुद्धजीवियों की एक बैठक में हिस्सा लेंगे। इस दरम्यान भाजपा अध्यक्ष लोकसभा प्रभारी से जनता के रूख का पता करेंगे। वह कानपुर-बुंदेलखंड,बृज और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के नेताओं से लंबी बैठक कर चुनावी रणनीति की समीक्षा करेंगे।

सूत्रों ने बताया कि अपने दो दिवसीय दौरे में श्री शाह राज्य की योगी सरकार के कार्यकलापों की भी समीक्षा करेंगे और मंत्रिमंडल में जरूरी फेरबदल पर बातचीत करेंगे। शाह के दौरे के बाद प्रदेश भाजपा संगठन में फेरबदल की संभावना है।