अमित शाह का ओवैसी से सुरक्षा लेने से इंकार न करने का आग्रह

नई दिल्ली। गृह मंत्री अमित शाह ने एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी पर उत्तर प्रदेश के हापुड़ में हुए जानलेवा हमले पर कहा है कि उन्हें बिना सुरक्षा के अपने राजनीति कार्यक्रमों में नहीं जाना चाहिए और केंद्र सरकार से जो सुरक्षा उपलब्ध कराई जा रही है उसे लेने से उन्हें इंकार नहीं करना चाहिए।

शाह ने ओवैसी पर पिछले दिनों हापुड़ में हुए जानलेवा हमले पर लोकसभा में आज वक्तव्य देते हुए कहा कि उनके वाहन पर गोलियों से हमला हुआ है और गाड़ी के पहिए पर गोली के निशान मिले हैं। पुलिस ने तत्काल करवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार किया है और उनके कब्जे से दो अवैध पिस्तौल और एक अल्टो कार बरामद की गई है।

उन्होंने कहा कि दोनों हमलावरों के खिलाफ पिलखुआ थाने में भारतीय दंड संहिता 307 की धारा 45/22 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है और मामले की छानबीन की जा रही है। उनका कहना था कि प्रदेश में कानून व्यवस्था ठीक है और केंद्र सरकार ने राज्य से इस हमले को लेकर रिपोर्ट मांगी है।

गृह मंत्री ने कहा कि दिल्ली पुलिस और तेलंगाना पुलिस ने ओवैसी को सुरक्षा देने की बात कही है लेकिन उन्होंने सुरक्षा लेने से इनकार किया है। शाह ने कहा कि केंद्र सरकार ने उन्हें जेड श्रेणी की सुरक्षा देने का प्रस्ताव किया है लेकिन ओवैसी ने मौखिक रूप से सीआरपीएफ के अधिकारियों से सुरक्षा नहीं लेने की बात कही है। उन्होंने ओवैसी से आग्रह किया कि वह सुरक्षा लेने से इंकार न करें।